Admit involvement in spot-fixing scandal if you want to resume playing: PCB tells Sharjeel Khan
Sharjeel-Khan @afp (file image)

स्पॉट फिक्सिंग मामले में फंसे पाकिस्तान के पूर्व सलामी बल्लेबाल शारजील खान ने 30 महीने की सजा शनिवार को पूरी कर ली लेकिन पीसीबी ने साफ कर दिया कि क्रिकेट में वापसी के लिए उन्हें अपनी गलती को स्वीकार कर भ्रष्टाचार रोधी पुनर्वास कार्यक्रम में भाग लेना होगा।

पढ़ें: विराट कोहली बोले- मेरे लिए नंबर चार और पांच की जगह काफी लचीली है

शारजील को पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) में फिक्सिंग का दोषी पाये जाने के बाद अगस्त 2017 में पांच साल निलंबन की सजा दी गई थी लेकिन पीसीबी की भ्रष्टाचार रोधी न्यायधिकरण ने उनके निलंबन की आधी सजा रद्द कर दी थी।

पीसीबी के भ्रष्टाचार रोधी न्यायधिकरण ने शारजील के साथ खालिद लतीफ, मोहम्मद इरफान, मोहम्मद नवाज, नासिर जमशेद, शाहबाज हसन को भी मैच फिक्सिंग में संलिप्त पाया था। पीसीबी के एक अधिकारी ने कहा कि शारजील को सितंबर में होने वाले कायदे आजम ट्रॉफी में खेलने का मौका मिल सकता है लेकिन इसके लिए उन्हें स्पॉट फिक्सिंग में अपनी संलिप्तता स्वीकार करनी होगी और अपने कार्यों के लिए माफी मांगनी होगी।

पढ़ें: कोच पद के लिए दिग्गजों पर दबाव डालना ठीक नहीं : मोहसिन खान

उन्होंने कहा कि सलमान बट्ट और मोहम्मद आसिफ को भी क्रिकेट में वापसी के लिए 2015 में ऐसा ही करना पड़ा था। शारजील से जुड़े एक सूत्र ने बताया कि उन्होंने अपने खिलाफ लगे पांच आरोपों को मान लिया लेकिन यह स्वीकार नहीं किया कि वह स्पॉट फिक्सिंग में शामिल थे और इससे उन्हें वित्तीय फायदा हुआ था।