पूर्व टेस्ट क्रिकेटर एलिस्टर कुक का मानना है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच में पहली पारी में 187 रनों पर आउट होने के बावजूद इंग्लैंड टीम मैच में बनी हुई है। इंग्लैंड को पहले टेस्ट मैच में विंडीज के हाथों 381 रनों से करारी हार का सामना करना पड़ा था। फैंस को उम्मीद थी कि मेहमान दूसरे मैच में दमदार वापसी करेंगे, लेकिन दूसरे टेस्ट की पहली पारी में एक बार फिर इंग्लिश बल्लेबाज पूरी तरह से विफल रहे।

बीबीसी ने कुक के हवाले से लिखा है, “किस्मत वेस्टइंडीज के साथ है। अगर ये बदलती है तो मैच भी बड़ी जल्दी बदलेगा। इंग्लैंड के चरित्र की ये असली परीक्षा है।”

ये भी पढ़ें: एंटीगुआ टेस्ट: कीमार रोच, शेनन गेब्रिएल के सामने 187 पर ढेर हुआ इंग्लैंड

कुक ने बारबाडोस में खेले गए पहले मैच को लेकर कहा, “बारबाडोस में काफी बुरा हुआ था, लेकिन आज उन्होंने उस तरह की बल्लेबाजी नहीं की। वेस्टइंडीज के लिए टॉस जीतना अच्छा रहा। इस विकेट पर पहले दो और तीन घंटे जितना बाउंस था, उतना मैंने कभी टेस्ट मैच के पहले दिन नहीं देखा।”

ये भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में ढलने के लिए मैंने अपने डिफेंस पर काम किया: जॉनी बेयरस्टो

दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में मोइन अली ने सबसे ज्यादा 60 रन बनाए। जॉनी बेयरस्टो ने 52 और बेन फोक्स ने 35 रन बनाए। विंडीज के लिए केमर रोच ने चार,  शेनन गैब्रिएल ने तीन, अल्जारी जोसेफ ने दो और कप्तान जेसन होल्डर ने एक विकेट लिए।

हाल ही में ब्रिटिश सरकार द्वारा नाइटहुड पाने वाले सर एलिस्टर कुक कैनबरा टेस्ट से पहले इंग्लैंड टीम के अभ्यास सेशन के दौरान नजर आए।

(आईएएनएस)