दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर एंडिले फेलुकवायो (Andile Phehlukwayo) नियमित तौर पर टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं और वह क्रिकेट के इस सबसे लंबे प्रारूप में अपनी छाप छोड़ना चाहते हैं।

फेलुकवायो ने स्पोर्ट्स 24 से कहा, “मैं टेस्ट में प्रभाव बनाना चाहता हूं। यह खेलने के लिए सबसे बड़ी और कठिन जगह है। यदि आप टेस्ट क्रिकेट खेल रहे हैं, तो यह किसी भी क्रिकेटर के लिए असली खेल है। मैंने अभी तक चार टेस्ट मैच खेले हैं। यदि मैं 100 टेस्ट खेल पाता हूं तो यह मेरे लिए अच्छा होगा।”

उन्होंने कहा, ” मैं मुख्य रूप से सीमित ओवर क्रिकेट खेलता हूं और टी 20 विश्व कप भी करीब आ रहा है, इसलिए मुझे व्हाइट-बॉल क्रिकेट में लगातार शानदार प्रदर्शन करने पर अपना ध्यान केंद्रित करना है। टेस्ट टीम निश्चित रूप से एक ऐसी जगह है जहां मैं रहना चाहता हूं। मैं खुद को चुनौती देना चाहता हूं, मैं उस स्थान पर लंबे समय तक बने रहना चाहता हूं, जब तक टीम को मेरी जरूरत है। मैं प्रतिस्पर्धा करना चाहता हूं।”

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के कारण मजबूरी में मिले ब्रेक से उन्हें अपने शरीर पर काम करने का पूरा मौका दिया है जो उन्हें अपने करियर को लम्बा खींचने में मदद करेगा।

फेलुकवायो (Andile Phehlukwayo) ने कहा, ” मेरी सबसे बड़ी प्रेरणा बेहतर और मजबूत बनने की कोशिश करना है। अगर मैं 10 प्रतिशत या पांच फीसदी भी बेहतर महसूस करता हूं, तो यह मेरे करियर को लंबा खींचने में मदद करेगा।