साल 2015 में भारत ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ अमेरिका में दो टी20 मैच खेल थे।  © Getty Images
साल 2015 में भारत ने वेस्ट इंडीज के खिलाफ अमेरिका में दो टी20 मैच खेल थे। © Getty Images

आस्ट्रेलिया के प्रमुख कोच डैरेन लीमैन ने टी20 विश्व कप को लेकर बड़ा बयान दिया है। उनका मानना है कि अगला टी20 विश्व कप अमेरिका में होना चाहिए, इससे अमेरिका में क्रिकेट को बढ़ावे देने में मदद मिलेगी। पिछले साल भारत और वेस्ट इंडीज के बीच दो मैचों की टी20 सीरीज का आयोजन अमेरिका में किया गया था। भारतीय क्रिकेट बोर्ड बीसीसीआई ने अमेरिका में क्रिकेट के प्रति लोगों की रुचि को देखकर यह फैसला लिया था। हालांकि इस सीरीज का दूसरा मैच बारिश के चलते रद्द हो गया था लेकिन बीसीसीआई अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने यह बात कही थी कि वह दोबारा अमेरिका में क्रिकेट मैच का आयोजन करना चाहेंगे। विराट कोहली के जन्मदिन पर क्या कहा वीरेंद्र सहवाग ने, पढ़ने के लिए क्लिक करें

लीमैन भी अमेरिका में ज्यादा से ज्यादा क्रिकेट मैच आयोजित किए जाने के पक्ष में हैं। उन्होंने कहा ” टी20 विश्व मैच का आयोजन अमेरिका में किया जा सकता है साथ ही अगले टी20 विश्व कप की मेजबानी करने के लिए अमेरिका का चयन किया जा सकता है। यहां पर क्रिकेट को बढ़ावा देने का इससे अच्छा और कोई उपाय मेरी नजर में तो नहीं है।” उन्होंने कहा कि जिस तरह फुटबॉल विश्व कप अमेरिका में होने के बाद यहां पर उसकी प्रसिद्धी बढ़ गई थी कुछ ऐसा ही क्रिकेट के साथ करने की जरूरत है। हालांकि अमेरिका में बसी बड़ी एशियन आबादी की वजह से क्रिकेट और क्रिकेटर्स वहां पर पहले से ही काफी मशहूर हैं अब अगर टी20 विश्व कप की मेजबानी का मौका अमेरिका को मिलता है तो इससे आईसीसी को ही फायदा होगा। लीमैन का कहना है कि आस्ट्रेलिया क्रिकेट बोर्ड इस मुद्दे से पूरी तरह सहमत है। विराट कोहली के 28वें जन्मदिन पर पढ़े उनसे जुड़ी कुछ खास बातें

पिछले साल अगस्त में फ्लोरिडा के सेंट्रल ब्रोवार्ड रीजनल पार्क में 27 और 28 तारीख को भारत और वेस्ट इंडीज के बीच टी20 मैच खेले गए थे। पहला मैच वेस्ट इंडीज ने जीता था वहीं दूसरा मैच बारिश की वजह से पूरा नहीं हो पाया था और उसे रद्द करना पड़ा था। मैच के बाद भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी कुछ नाराज दिखे थे। उनका कहना था कि स्थिती इतनी भी खराब नहीं थी कि मैच रद्द करना पड़े, वह इससे भी बुरी स्थितियों में मैच खेल चुकें हैं। इस बात से अमेरिका में आयोजित मैचों के प्रबंधन पर सवाल उठ गए थे। अब जबकि आस्ट्रेलिया के कोच भी अमेरिका में विश्व कप आयोजित करने के पक्षधर हैं तो इस बात पर विचार करना जरूरी है कि क्या अमेरिका इसके लिए तैयार है।