Australian head coach Justin Langer advises young sportspersons to stay away from social media

सोशल नेटवर्किंग साइट के आने से दुनिया भर के खिलाड़ियों को कभी-कभार गाली गलौच और धमकी वाले ऑनलाइन संदेशों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के मुख्य कोच जस्टिन लैंगर ने दुनिया भर के युवा खिलाड़ियों को सोशल मीडिया से दूर रहने की सलाह दे डाली। लैंगर का मानना है कि इससे बचने का एकमात्र तरीका है कि सोशल मीडिया से पूरी तरह से दूर हो जाओ।

चार्ली वेबस्टर के ‘माई स्पोर्टिंग माइंड’पोडकास्ट के दौरान 49 वर्षीय ने कहा, ‘अगर मैं युवा खिलाड़ियों को कोई सलाह दूंगा, बल्कि मैं उस किसी भी व्यक्ति को यही सलाह दूंगा जो चर्चित है कि ‘जीरो सोशल मीडिया’ (सोशल मीडिया से बिलकुल दूर रहो)। ’

उन्होंने कहा, ‘मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूं क्योंकि मैं नहीं चाहता कि कोई भी अजनबी मुझे आकर कहे कि मैं कितना अच्छा हूं और सबसे अहम चीज है कि मैं नहीं चाहूंगा कि अजनबी आकर मुझे बतायें कि मैं कितना बुरा हूं क्योंकि मैं जानता हूं कि मैं अच्छा खेल रहा हूं या बुरा खेल रहा हूं। मैं नहीं चाहता कि अजनबी मुझे यह सब बताएं।’

जोश हेजलवुड ने ICC से की बदलाव की मांग, कहा-इससे टेस्ट पर पड़ेगा अच्छा प्रभाव

लैंगर ने कहा, ‘मैं यह जरूर चाहूंगा कि जिन लोगों का मैं सम्मान करता हूं, मेरे परिवार वाले और दोस्त, वे ऐसा करें।’

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर को पिछले साल न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टेस्ट के दौरान नस्ली टिप्पणी का सामना करना पड़ा था और हाल में उन्होंने जब वेस्टइंडीज के खिलाफ श्रृंखला के दौरान ‘बायो बबल’ का उल्लंघन किया था, तब भी इंस्टाग्राम पर उन्हें भद्दी टिप्पणी का सामना करना पड़ा।

CPL 2020 : जमैका तलावास को नहीं मिल पाएगी असिस्टेंट कोच रामनरेश सरवन की सेवाएं

लैंगर ने कहा कि वह यह देखकर हैरान हो गए कि उनकी टीम को पिछले साल विश्व कप और एशेज के दौरान ऑनलाइन गाली दी गई थी।