CM Trivendra Singh Rawat expressed happiness on the decision of the BCCI to give recognition to Uttarakhand
bcci-logo

उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश क्रिकेट संघ को बीसीसीआई से मान्यता मिलने पर खुशी व्यक्त करते हुए कहा कि इससे राज्य के युवा खिलाडियों को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा।

पढ़ें: एस.एस. पॉल बने बंगाल सीनियर महिला क्रिकेट टीम के कोच

मुख्यमंत्री रावत ने सीएम आवास में पूर्व मंत्री हीरा सिंह बिष्ट एवं प्रदेश संघ के अधिकारियों से मुलाकात के दौरान यह बात कही।

रावत ने पदाधिकारियों द्वारा उनका आभार जताये जाने पर कहा कि राज्य हित सर्वोपरि होता है और खेल भावना यही कहती है कि सफलता के लिए टीम भावना से काम किया जाए।

उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड को बीसीसीआई से मान्यता दिलाने के लिए तमाम राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता को परे रखकर सभी ने मिलकर कोशिश की और इसके लिए सभी लोग बधाई के पात्र हैं। उन्होंने कहा कि आगे भी हमें इसी भावना को बनाए रखना है।

बीसीसीआई से मान्यता मिलने को राज्य के लिये विशेष उपलब्धि बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 19 वर्ष से किये जा रहे प्रयासों को अब मान्यता मिली है । उन्होंने कहा कि राज्य के खिलाड़ी और खेल प्रेमी लम्बे समय से इस पल का इंतजार कर रहे थे और इससे राज्य में क्रिकेट को नया मुकाम मिलेगा।

पढ़ें: विराट के शतक से छह विकेट से जीता भारत, सीरीज पर 2-0 से किया कब्‍जा

उन्होंने कहा कि अब हमारे खिलाड़ियों को अपनी प्रतिभा दिखाने के लिए दूसरे राज्यों पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा जिससे क्रिकेट जगत में उत्तराखण्ड को नई पहचान भी मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अब राज्य में राष्ट्रीय व अन्तरराष्ट्रीय स्तर की क्रिकेट की बड़ी प्रतिस्पर्धाएं होंगी जिससे राज्य में पर्यटन एवं आर्थिक गतिविधियों को भी बढ़ावा मिलेगा।