इंडियन प्रीमियर लीग (IPL 2022) के 51वें मुकाबले में आज गुजरात टाइटन्स को मुंबई इंडियन्स के खिलाफ मैच के अंतिम लम्हो में हार का सामना करना पड़ा. आखिरी ओवर में गुजरात को 9 रन की दरका थी, जबकि उसके 6 विकेट हाथ में थे. अंतिम लम्हो से पहले गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) रन आउट हो गए और फिर निर्णायक ओवर में मैच फिनिशर राहुल तेवतिया भी रन आउट के रूप में आउट हुए.

मैच के बाद कप्तान पांड्या ने इसे ही हार का कारण बताया. उन्होंने कहा कि टीम अंतिम ओवर में आराम से 9 रन बना सकती थी लेकिन दो खिलाड़ियों का रन आउट होना भारी पड़ गया.

गुजरात टाइटन्स को अंतिम ओवर में नौ रन चाहिए थे लेकिन डेनियल सैम्स (3 ओवर में 18 रन) ने छह गेंद में केवल तीन रन दिए, जिसमें तेवतिया रन आउट भी हुए.

पंड्या ने हार का ठीकरा बल्लेबाजों पर फोड़ा और कहा, ‘मुझे लगता है कि बल्लेबाजों ने हमें निराश किया. टी20 मैचों में आप लगातार हार नहीं सकते. इसके लिए किसी को दोषी नहीं ठहरा सकते क्योंकि हम इस तरह के मैच जीते हैं. हमने गलतियां कीं, जिसका खामियाजा भुगता. हमने अपनी पारी में 19.2 ओवर तक अच्छा क्रिकेट खेला, एक या दो हिट अंतर ला सकते थे. हमें इसे अंतिम ओवर तक नहीं पहुंचाना चाहिए था.’

पांड्या ने गेंदबाजों के प्रदर्शन की तारीफ की क्योंकि मुंबई इंडियंस अच्छी शुरुआत के बावजूद छह विकेट पर 177 रन का स्कोर ही बना सकी थी. उन्होंने कहा, ‘मुझे लगता है कि गेंदबाजों ने शानदार काम किया और 170 रन के स्कोर पर ही रोक दिया क्योंकि वे 200 रन की ओर बढ़ रहे थे.’

वहीं मुंबई इंडियंस के कप्तान रोहित शर्मा ने कहा, ‘अंत में यह करीबी मुकाबला हो गया. हम लंबे समय से जीत की तलाश में थे, जिससे यह संतोष वाली जीत थी. भाग्य हमारे पक्ष में होना ही था. हमने स्कोर में 15-20 रन कम बनाए, उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की.’