live cricket score, live score, live score cricket, india vs england live, india vs england live score, ind vs england live cricket score, india vs england 1st test match live, india vs england 1st test live, cricket live score, cricket score, cricket, live cricket streaming, live cricket video, live cricket, cricket live rajkot
इंग्लैंड के भारत दौरे पर बीसीसीआई नहीं खर्च करेगा पैसा। © AFP

अगले हफ्ते से शुरू हो रहे इंग्लैंड के भारत दौरे को लेकर असमंजस की स्थिती पैदा हो गई है। अब जबकि पहले मैच की सारी तैयारियां हो चुकी हैं बीसीसीआई और इसीबी के बीच विवाद की आशंका बन रही है। इस विवाद की शुरूआत बीसीसीआई की उस चिठ्ठी के बाद हुई है जिसमें भारतीय क्रिकेट बोर्ड ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से निवेदन किया है कि इस द्विपक्षीय सीरीज का सारा खर्च वह खुद उठाए। बीसीसीआई के ऐसा करने के पीछे कारण है सुप्रीम कोर्ट का वह फैसला जिसमें उसने लोढ़ा समिति की सिफारिशे न लागू करे तक बोर्ड के सभी भुगतानों पर रोक लगा दी है। बोर्ड ने अब इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए सीरीज का खर्च उठाने से इंकार कर दिया है। ग्रीम स्वॉन ने इंग्लैंड के भारत दौरे को लेकर दिया बड़ा बयान, पढ़ने के लिए क्लिक करें

बीसीसीआई के मैनेजर अजय शिरके की ईसीबी मैनेजर फिल नील को भेजी चिठ्ठी में लिखा है कि भारतीय बोर्ड तहे दिल से इंग्लैंड टीम का स्वागत करती है लेकिन यह बताते हुए हमें बड़ा दुख हो रहा है कि मौजूदा हालात में बीसीसीआई सीरीज का खर्च नहीं उठा पाएगी। ऐसा उच्चतम न्यायालय के आदेश के कारण हो रहा है। टीम के होटल में रहने, सफर करने और बाकी सारी चीजों से जुड़े खर्चों को टीम के भारत आने तक के लिए बढ़ा दिया गया है, इन सारे खर्चों को इंग्लैंड बोर्ड को स्वंय उठाना होगा। लोढा पैनल से आबीसीसीआई के इस कदम के बाद रद्द हो सकता है इंग्लैंड का भारत दौरागे के निर्देश मिलने के बाद आपको सूचना दे दी जाएगी। इस चिठ्ठी के बाद भारत-इंग्लैंड सीरीज के रद्द होने का खतरा मंडरा रहा है। लोढी समिती, सुप्रीम कोर्ट और बीसीसीआई के इस त्रिकोण में ईसीबी फंस गई है। हालांकि अब तक इंग्लैंड बोर्ड की ओर से कोई जवाब नहीं आया है लेकिन उम्माीद यही है कि सीरीज रद्द करने का घाटा दोनों में से कोई भी बोर्ड नहीं उठाना चाहेगा। इंग्लैंड दौरे से पर नहीं खेलेंगे रोहित शर्मा, जानने के लिए क्लिक करें

बोर्ड पर लोढा समिती के निर्देश लागू करने का दवाब बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई पर कई आर्थिक अंकुश लगाए। जिनमें से एक है बोर्ड पर किसी भी प्रकार का भुगतान लेने या देने पर रोक। बोर्ड जब तक पैनल की सिफारिशों को लागू नहीं करेगा कोई भी स्टेट बोर्ड उसे भुगतान नहीं करेगा, न ही बीसीसीआई किसी स्टेट बोर्ड को धन दे सकता है। इस सबके बीच क्रिकेट फैन्स परेशान हैं कि वह नौ नवंबर को भारत इंग्लैड मैच देख सकेंगे या नही।