Former Indian fast bowler Rp Singh will  train young cricketers
RP-Singh © AFP

क्रिकेट से संन्यास लेने वाले उत्तर प्रदेश के पूर्व इंटरनेशनल तेज गेंदबाज आरपी सिंह ने कहा है कि वह अब युवा प्रतिभाओं को क्रिकेट की बारीकियां सिखाएंगे।

आरपी ने कहा है कि वे युवाओं को इस तरह से प्रशिक्षित करेंगे कि वे आने वाले समय में राज्य और देश का नाम रोशन कर सकें।

लखनऊ के गोमतीनगर के रहने वाले आरपी सिंह ने मंगलवार रात इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास का एलान किया था। आरपी ने ट्वीट कर कहा था कि 13 साल पहले चार सितंबर, 2005 को पहली बार उन्होंने भारतीय टीम की जर्सी पहनी थी।

आरपी सिंह का इंटरनेशनल क्रिकेट करियर लगभग छह साल का रहा। उन्होंने इस दौरान क्रिकेट के सभी प्रारूपों में 82 मैच खेले और 100 से अधिक विकेट चटकाए।

क्रिकेट अकादमी चला रहे हैं आरपी

आरपी ने फोन पर बताया, ‘ फिलहाल मैं ग्रेटर नोएडा में युवा क्रिकेटरों को प्रशिक्षण देने के लिए क्रिकेट अकादमी चला रहा हूं। मैं युवा और उभरते हुए क्रिकेटरों को प्रशिक्षण दे रहा हूं, ताकि वे क्रिकेट में राज्य और देश का नाम रोशन कर सकें।’

भविष्य की योजनाओं के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘ फिलहाल मैं केवल क्रिकेट कमेंट्री और कोचिंग में बच्चों को प्रशिक्षण दूंगा। अभी कुछ दिन आराम करूंगा उसके बाद फिर सोचूंगा कि क्रिकेट जगत को अपनी सेवाएं किस रूप में दूं।’

(इनपुट-एजेंसी)