Former pakistan coach Mickey Arthur: I saw Babar Azam grow as a cricketer
बाबर आजम, मिकी आर्थर (Twitter)

पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कोच मिकी आर्थर का कहना है कि कई लोग मानते थे कि बाबर आजम खेल नहीं सकता है लेकिन उन्होंने इस बल्लेबाज को हर मैच में खिलाया और आज दुनिया एक प्रतिभावशाली खिलाड़ी को लगातार दिए समर्थन का नतीजा देख रही हैं।

स्पोर्ट्स्टार से बातचीत में उन्होंने कहा, “मैंने बाबर आजम को बतौर क्रिकेट बढ़ते हुए देखा है। ये बेहद अहम था। लोग कहते थे कि बाबर खेल नहीं सकता। मैंने निश्चित किया कि वो पाकिस्तान के लिए हर मैच में खेले क्योंकि वो इतना अच्छा खिलाड़ी है। हमें उसे उड़ने के लिए पंख देने थे। हमें उसे समय देना था और आज सब इसका नतीजा देख रहे हैं।”

साल 2016 में पाक टीम के कोच बने आर्थर ने शुरुआत से ही आजम का समर्थन किया। उन्होंने कहा, “उसे मौके देना जरूरी था क्योंकि इससे एक निश्चित समय के बाद सफलता मिलती है। मैं हमेशा से ऐसा कोच रहा हूं जिसने उन चीजों को ढूंढने की कोशिश की है, जहां सुधार की जरूरत है।”

‘अगर विराट कोहली को पसंद करते हैं तो एक बार बाबर आजम को बल्लेबाजी करते देखें”

उन्होंने कहा, “मैंने हमेशा हमारे क्रिकेट ब्रांड की पहचान करने और फिर ऐसी टीम बनाने की कोशिश की है जो कि उस ब्रांड के क्रिकेट में फिट हो सके। फिर, उन्हें एक मौका दें और उन्हें लंबे समय तक खेलने की अनुमति दें। ये महत्वपूर्ण है क्योंकि ये खिलाड़ियों को आत्मविश्वास देता है और आपकी टीम की संस्कृति को बढ़ाने देता है।”

पाक टीम के कोच पद से हटाए जाने के बाद श्रीलंका के कोच बने आर्थर ने अक्टूबर में होने वाले टी20 विश्व कप के आयोजन के बारे में कहा, “दो अहम प्वाइंट हैं- पहला ये कि इससे क्रिकेट बोर्ड्स को काफी राजस्व मिलेगा। और दूसरा कि लोग ये नहीं भूल सकते कि अगले साल भारत में भी एक टी20 विश्व कप है। इसलिए ये टूर्नामेंट कैलेंडर में कहां फिट होता है? मुझे लगता है कि ये जरूरी है कि हम इसी साल टी20 विश्व कप खेलें।”