गौतम गंभीर  © Getty Iamges
गौतम गंभीर © Getty Iamges

कुछ लोगों के लिए वास्तव में जिंदगी बेदर्द हो जाती है। ये बात भारतीय टीम के प्रतिभाशाली बल्लेबाज केएल राहुल को लेकर सही भी साबित होती है। इस साल आईपीएल में बेहतरीन प्रदर्शन करने के बाद जिम्बाब्वे सीरीज और वेस्टइंडीज सीरीज में अच्छे हाथ दिखाने के बाद राहुल के पास अच्छा मौका था कि न्यूजीलैंड सीरीज में अपने बल्ले से चमक दिखाते हुए टीम में अपनी पोजीशन पुख्ता कर लेते लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था और वह न्यूजीलैंड के खिलाफ पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद ही चोटिल हो गए। हैमस्ट्रिंग की चोट से जूझ रहे राहुल वर्तमान में पुर्नवास के दौर से गुजर रहे हैं औ उनका फिटनेस टेस्ट से गुजरना अभी बाकी है। गुरुवार से रणजी ट्रॉफी का चौथा राऊंड शुरू हो रहा है। ऐसे में कई उदीयमान क्रिकेटरों के पास इंग्लैंड दौरे के पहले अपना जौहर दिखाने के लिए कई मौके होंगे। लेकिन एक बार फिर से राहुल चोट की गंभीरता को देखते हुए कर्नाटक बनाम असम के मैच में उपलब्ध नहीं होंगे। ये भी पढ़ें: दर्शक अब दूरदर्शन पर भी उठा सकेंगे भारतीय क्रिकेट टीम के मैच का लुत्फ

जैसा कि केएल राहुल की चोट को लेकर कोई भी ठोस बात सामने नहीं आई है। ऐसे में टीम इंडिया एक बार फिर से गौतम गंभीर को टेस्ट टीम में मौका दे तो इसमें कोई गुरेज नहीं है। गौर करने वाली बात है कि गंभीर को न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए इंदौर टेस्ट में मौका दिया गया था जिसमें उन्होंने 29 और 50 रनों की पारी खेली थी। भारत और इंग्लैंड के बीच 5 टेस्ट मैच खेले जाने हैं।

वहीं टीम इंडिया के दो ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन और केएल राहुल पहले से ही चोटिल तो पूरी तरह से टीम इंडिया गौतम गंभीर पर ही निर्भर नजर आती है। पहला टेस्ट मैच 7 नवंबर से शुरू हो रहा है। इस सीरीज में कुछ अन्य चेहरों के भी टीम इंडिया में शामिल होने की उम्मीदें हैं। जिनमें सबसे ऊपर नाम रिषभ पंत का है। पंत ने हाल ही में रणजी ट्रॉफी में तिहरा शतक जड़ा था। वहीं पिछले समय में उन्होंने अंडर- 29 विश्व कप में भी जबरदस्त प्रदर्शन किया था। बात करें युवराज सिंह की तो पिछले दिनों उन्होंने शतकीय पारी खेली थी और उसे देखते हुए उनकी दावेदारी इंग्लैंड के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज के लिए कुछ हद तक कही जा सकती है।