Gautam Gambhir replies to Bishan Singh Bedi’s comment
गौतम गंभीर © AFP

भारत के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने एक बार फिर पूर्व दिग्गज स्पिनर बिशन सिंह बेदी को आड़े हाथों लिया है और कहा है कि उन्होंने अपने बेटे अंगद को दिल्ली क्रिकेट में शामिल करने के लिए कई जतन किए थे।

गंभीर इससे पहले नवदीप सैनी के डेब्यू मैच में बेहतरीन प्रदर्शन के बाद बेदी और चेतन चौहान के खिलाफ बोले थे, जिसके जवाब में बेदी ने गंभीर के आरोपों को बेबुनियाद बताया था।

बेदी के जवाब के बाद एक बार फिर गंभीर पूर्व स्पिनर पर आक्रामक हो गए हैं। बेदी ने गंभीर की बात को नकराते हुए कहा था कि, “मुझे नहीं लगता कि मुझे गौतम गंभीर की तरह गिरी हुई हरकत करने की जरूरत है।”

टीम इंडिया में वही भूमिका है जो आईपीएल में थी: क्रुणाल पांड्या

गंभीर ने इसके जवाब में ट्वीट किया, “बिशन सिंह बेदी दबदबा कायम करने के लिए नीचे गिरने की बात कर रहे हैं। ये वो शख्स है, जो अपने नकाबिल बेटे का चयन कराना चाहता था और चेतन चौहान अपने भतीजे को डीडीसीए टीम में लाना चाहते थे। आप पर शर्म है? मैं यहां साथ ही 2013 में बेदी के नवदीप सैनी पर दिए गए बयान को पोस्ट कर रहा हूं।”

गंभीर ने अपनी पोस्ट में 2013 का वो पत्र लगाया है जिसमें बेदी ने सैनी की ये कहते हुए खिलाफत की थी कि वो दिल्ली एनसीआर के नहीं हैं।

सैनी ने वेस्टइंडीज के खिलाफ खेले गए पहले टी-20 मैच में तीन विकेट लिए थे। इसी के बाद गंभीर ने ट्वीट पर डीडीसीए के पूर्व सदस्य चेतन चौहान और बेदी के सैनी का दिल्ली की रणजी ट्रॉफी टीम में शामिल न करने की बात का जिक्र किया था।

जहीर खान की तरह टीम इंडिया के प्रमुख गेंदबाज बनना चाहते हैं खलील अहमद

चेतन और बेदी ने सैनी को दिल्ली की टीमें में शामिल न करने की बात की थी तो वहीं गंभीर ने सैनी का पक्ष लेते हुए इन दोनों की खिलाफत की थी। उस समय गंभीर दिल्ली की टीम के कप्तान हुआ करते थे।