न्यूजीलैंड (New Zealand) के खिलाफ वनडे सीरीज में पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और मयंक अग्रवाल (Mayank Agarwal) की सलामी जोड़ी के औसत प्रदर्शन बाद मुमकिन है कि टीम मैनेजमेंट टेस्ट सीरीज के दौरान पारी की शुरुआत के लिए किसी और खिलाड़ी का रुख करे। सलामी बल्लेबाजी के दावेदारों में ऑलराउंडर हनुमा विहारी (Hanuma Vihari) का नाम भी शामिल है।

विहारी ने न्यूजीलैंड के खिलाफ हो रहे तीन दिवसीय अभ्यास मैच के पहले दिन शानदार शतक जड़कर अपनी फॉर्म का परिचय भी दे दिया। हालांकि इस खिलाड़ी का कहना है कि टीम मैनेजमेंट की ओर से सलामी बल्लेबाजी करने को लेकर उन्हें कोई जानकारी नहीं मिली है लेकिन वो टीम की जरूरत के हिसाब से किसी भी क्रम में खेलने को तैयार हैं।

हैमिल्टन में खेले जा रहे अभ्यास मैच में 182 गेंदो पर 101 रन बनाकर रिटायर आउट हुए विहारी ने कहा, “बतौर खिलाड़ी मैं कहीं भी बल्लेबाजी करने को तैयार हूं। फिलहाल मुझे इस तरह की कोई जानकारी नहीं मिली है। जैसा कि मैं पहले भी कह चुका हूं, अगर टीम को जरूरत पड़ती है तो मैं कहीं भी बल्लेबाजी करने के लिए तैयार हूं।”

2009 आतंकी हमले में घायल हुए संगाकारा ने पाकिस्तान पहुंच कहा- ‘क्रिकेट सभी के लिए है’

टीम की जरूरत के लिए किसी भी क्रम में बल्लेबाजी करने के लिए तैयार विहारी से जब पूछा गया कि क्या दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ चार मैचों की घरेलू टेस्ट सीरीज से बाहर होने के बाद वो निराश हुए थे, तो उन्होंने कहा, “कभी कभार आपको टीम कॉम्बिनेशन को समझना होता है। आप दुखी नहीं हो सकते हैं। मैं समझता हूं कि जब आप घर पर खेलते हैं तो आप पांच गेंदबाज खिलाते हैं। ये साफ था कि एक बल्लेबाज को बाहर बैठना ही था। इसलिए मैंने इसे सकारात्मक तरीके से लिया। मैं किसी को कुछ साबित नहीं करना चाहता, बस प्रक्रिया का अनुसरण करना चाहता हूं।”

टीम इंडिया को न्यूजीलैंड के खिलाफ दो मैचटों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 21 फरवरी से वेलिंगटन में खेलना है। देखना होगा कि क्या विहारी इस मैच के जरिए भारतीय प्लेइंग इलेवन में वापसी कर पाते हैं या नहीं।