I could have got a bigger score in Sydney; Says Mayank Agarwal
Mayank Agarwal (AFP Image)

भारतीय क्रिकेट टीम के सलामी बल्‍लेबाज मयंक अग्रवाल ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्‍ट में शतक चूकने से नहीं बल्कि बड़ी पारी नहीं खेल पाने से निराश हैं।

27 साल के मयंक उस भारतीय टीम के हिस्‍सा रहे जिसने 71 साल बाद पहली बार ऑस्‍ट्रेलिया में कोई टेस्‍ट सीरीज जीती है। मयंक ने इस सीरीज में दो अर्धशतक लगाए। उन्‍होंने सिडनी में ड्रॉ हुए टेस्‍ट मैच की पहली पारी में 77 रन बनाए थे जबकि मेलबर्न की पहली पारी में 76 और दूसरी पारी में 42 रन बनाए थे।

पढ़ें: BBL: पर्थ स्‍कॉर्चर्स की जीत में चमके एंड्रयू टाई और कैमरुन बैनक्रॉफ्ट

मयंक का मानना है कि वो सिडनी में बड़ा स्‍कोर बना सकते थे।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत में मयंक ने कहा, ‘ मैं जब पहले मैच में 76 रन पर आउट हुआ तो उतना निराश नहीं था क्‍योंकि मैं जानता था कि पैट कमिंस की गेंद जितना उम्‍मीद मैंने किया था उससे कहीं बेहतर थी। लेकिन सिडनी में मैं खुद से बेहद निराश था। इसलिए नहीं कि शतक से चूक गया बल्कि इसलिए कि मैं वहां बड़ा स्‍कोर बना सकता था।’

भारतीय टीम ने चार मैचों की टेस्‍ट सीरीज 2-1 से अपने नाम की।

पढ़ें:  उडाना और मेहदी हसन की बदौलत राजशाही किंग्‍स को मिली पहली जीत

बकौल मयंक, ‘ मैंने जिस प्रकार से अपना विकेट गंवाया उससे निराश था। मैंने योजना बना रखी थी कि तेज गेंदबाजों के सामने किस तरह से खेलना है। नाथन लियोन के खिलाफ आक्रामक होकर खेलने की योजना थी। इससे मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला।’

मयंक और केएल राहुल ने सिडनी में भारत की ओर से पारी की शुरुआत की थी। दोनों कर्नाटक की ओर से घरेलू क्रिकेट खेलते हैं। राहुल ने भी ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर ही 2014-15 में अपने टेस्‍ट करियर का आगाज किया था।

भारतीय टीम इस समय ऑस्‍ट्रेलिया में है जहां वो वनडे सीरीज के लिए तैयारी कर रही है। भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच शनिवार को खेला जाएगा। हालांकि मयंक इस टीम का हिस्‍सा नहीं हैं।