वसीम अकरम और शोएब अख्तर © AFP
वसीम अकरम और शोएब अख्तर © AFP

चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले मुकाबले से पहले पूर्व कप्तान वसीम अकरम और पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने पाकिस्तानी टीम और उसके कप्तान सरफराज अहमद को खास संदेश और सलाह दी है। वसीम अकरम ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘सरफराज अहमद को दबाव में आने की जरूरत नहीं है, उन्हें किसी की बात सुनने की जरूरत नहीं है। मैं कप्तान होता तो सिर्फ फाइनल पर ध्यान लगाता और आखिरी गेंद तक मैच में लड़ने की रणनीति बनाता।’

वसीम अकरम के साथ-साथ दुनिया के सबसे तेज गेंदबाज शोएब अख्तर ने भी पाकिस्तानी टीम को खास संदेश दिया। शोएब अख्तर ने कहा, ‘बिलकुल भी दबाव में आने की जरूरत नहीं है। बस अच्छा, समझदारी भरा खेल दिखाने की जरूरत है। हिंदुस्तान की गेंदबाजी के खिलाफ भी 300 रन चेज हुए हैं तो आप भी कर सकते हो। किसी ने नहीं सोचा था कि पाकिस्तान फाइनल में पहुंचेगा। पाकिस्तान इतिहास रच सकता है।

शोएब अख्तर ने आगे कहा अगर आप जीतते भी नहीं हो तो हम आपके साथ खड़े हैं। रमजान चल रहा है सभी फैंस की दुआएं आपके साथ हैं। मैंने कभी अपने लिए भी इतनी दुआएं नहीं की जितनी मैं सरफराज अहमद की टीम के लिए कर रहा हूं। फाइनल के लिए आपको हार्दिक शुभकामनाएं। शोएब मलिक को ऊपर भेजा जाए और मोहम्मद हफीज को नीचे भेजा जाए।’

आपको बता दें पाकिस्तान पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में पहुंचा है। टीम इंडिया के खिलाफ पहला मैच गंवाने के बाद पाकिस्तान ने जबर्दस्त वापसी की और उसने दुनिया की नंबर एक टीम द.अफ्रीका, श्रीलंका और फिर सेमीफाइनल में इंग्लैंड को मात देकर फाइनल में जगह बनाई। अब देखना ये है कि पाकिस्तानी टीम वसीम अकरम और शोएब अख्तर की बात सुनकर इतिहास रच पाती है या नहीं।