If we are 60, Dhoni makes up the other 40 percent- kuldeep yadav
MS Dhoni and Kuldeep Yadav

भारतीय क्रिकेट टीम के स्पिनर कुलदीप यादव की गेंदबाजी आईसीसी विश्व कप में टीम के लिए अहम मानी जा रही है। कुलदीप ने पूर्व भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को उनकी गेंदबाजी में आए सुधार का श्रेय दिया।

हिन्दुस्तान टाइम्स से कुलदीप ने बताया कि जब उन्होंने गेंदबाजी करनी शुरू की थी तो वह ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज शेन वार्न जैसी गेंद डालना पसंद करते थे। यादव ने शुरुआती दिनों की गेंदबाजी को याद करते हुए कहा, ”मैं ऐसा महसूस करता था जैसे कि शेन वार्न की तरह से गेंदबाजी कर रहा हूं। मैं उनकी तरह गेंद को टर्न कराने की कोशिश करता था। ”

पढ़ें:- मैं कोई जादूगर नहीं, जो हर मैच में अच्छा प्रदर्शन करूं- कुलदीप

स्पिनर की असली कला तब मानी जाती है जब वह बल्लेबाज को चकमा देने में कामायब हो, ”अगर आप हवा में या फिर ड्राइव करते समय बल्लेबाज को चकमा देने में कामयाब होते हैं और गेंद टर्न कराएं तो वो कला होती है। अगर बल्लेबाज आपकी गेंद को पढ़ने में नाकाम हो और बोल्ड हो जाए या LBW हो या फिर लगातार स्टंप हो तो यह मिस्ट्री कहलाएगी।”

यादव ने धोनी को उनकी स्पिन को बेहतर करने का श्रेय दिया। ”हम अगर 60 फीसदी भी हो तो वो (धोनी) बाकी के 40 फीसदी इसमें जोड़ देते हैं। वह हमारी गेंदबाजी को पूरा करते है।”

पढ़ें:- ‘माही भाई का बहुत सम्मान करता हूं, नहीं दिया कोई विवादित बयान’

धोनी की विकेट के पीछे से मिलने वाली मदद की वजह से यादव की गेंदबाजी में काफी बदलाव आता है। उनके बिना गेंदबाजी प्रदर्शन पर फर्क पड़ता है यह ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू सीरीज में नजर आया। दो मुकाबले जहां धोनी को आराम दिया गया था उसमें यादव ने 64 रन देकर 1 विकेट और 74 रन देकर 1 विकेट हासिल किया था।

गौरतलब है कि पिछले दिनों मीडिया में ऐसी खबर आई थी कि कुलदीप ने कहा है कि धोनी की सलाह कई बात काम नहीं आती है लेकिन इसके लिए आप उनको कुछ कह नहीं सकते हैं। कुलदीप ने इस पर सफाई देते हुए मीडिया द्वारा उनके बयान को गलत तरीके से पेश करना की बात कही थी।