एबी डीविलियर्स और विराट कोहली  © Getty Images
एबी डीविलियर्स और विराट कोहली © Getty Images

अभी कुछ दिन पहले की बात है जब विराट कोहली और एबी डीविलियर्स आईपीएल में एक ही टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के हिस्सा थे। दोनों दिग्गजों के रहते हुए बैंगलोर को आईपीएल 10 में करारी हार झेलनी पड़ी। जाहिर है कि आईपीएल की हार को वे वहीं छोड़ आए होंगे। अब दोनों अपने- अपने देशों की ओर से आईसीसी चैंपियंस ट्रॉफी में अपना दम दिखा रहे हैं। आज भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच केनिंटन ओवल, लंदन में खेला जाने वाला मैच किसी क्वार्टरफाइनल की तरह है। क्योंकि जो भी टीम इस मैच में जीतेगी वही सेमीफाइनल में पहुंचेगी और हारने वाली टीम को घर वापसी का टिकट कटाना होगा। ऐसे में दोनों ही टीमें कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगी। मैच के पहले हुई प्रेस कॉन्फ्रेंस में दोनों टीमों के कप्तान विराट कोहली और एबी डीविलियर्स ने मैच को जीतने का दम भरा। इसके अतिरिक्त इन दोनों दिग्गजों ने एक दूसरे की तारीफ के पुल भी बांधे।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली पहले आए। उनसे सवाल पूछा गया कि आप एबी डीविलियर्स के साथ काफी खेल चुके हैं। क्या आप इस बात से हैरान नहीं है कि उनके लिए यह टूर्नामेंट फीका रहा है। यहां तक कि आईपीएल में भी वह फीके रहे थे। क्या आप यह उम्मीद जता रहे हैं कि आप कम से कम उनके लिए फॉर्म में वापसी करें?

इसके जवाब में कोहली ने कहा, “वास्तव में मुझे उनसे सहानुभूति होती है। मैं भी इस तरह की परिस्थितियों से कई बार गुजरता हूं। जब आप अपने लिए एक मानक सेट कर लेते हो और फिर अच्छा प्रदर्शन नहीं करते तो लोग हैरान रह जाते हैं। जितनों क्रिकेटरों को भी मैंने देखा है वह उनमें दुनिया के सबसे प्रतिबद्ध क्रिकेटर हैं। इसका कारण यह है कि वह अपनी टीम के लिए हमेशा अतिरिक्त करने की कोशिश करते हैं और इसी तरह का उनका व्यक्तित्व हमेशा रहा है। इसलिए, मैं नहीं कहूंगा कि मैं हैरान हूं। मैं एबी को काफी अच्छी तरह से जानता हूं। इसलिए इस तरह खेलने के पीछे मैं उनकी मनःस्थिति को जानता हूं। जब उनका दिन होगा तो उनके लिए यह मायने नहीं रखेगा कि पिछले दिनों में उन्होंने कैसा प्रदर्शन किया, कितने रन बनाए, वह अच्छा खेलेंगे। उन्हें जल्दी आउट करने के लिए आपको रास्ते ढूंढने होंगे। इसलिए हम सिर्फ उन्हें ही नहीं बल्कि अन्य बल्लेबाजों को भी रोकना चाहेंगे। मुझे लगता है कि वे एक बेहतरीन टीम हैं और आपको हर बल्लेबाज का बराबर सम्मान करना चाहिए। हां, इसी मनःस्थिति के साथ हम मैच में उतरेंगे।”

[ये भी पढ़ें: चैंपियंस ट्रॉफी: ‘लाल गेंद’ जिताएगी विराट को द.अफ्रीका के खिलाफ मुकाबला?]

इसके बाद एबी डीविलियर्स प्रेस कॉन्फ्रेंस में आए। उनसे पूछा गया, इसके पहले विराट कोहली आए थे और उन्होंने आपके बारे में कहा कि टूर्नामेंट में आपके रन न बना पाने के कारण वह आपके लिए सहानुभूति व्यक्त करते हैं, उन्होंने कहा कि वह भी इस दौर से गुजरे हैं। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए डीविलियर्स ने कहा, “वह बहुत इंसान अच्छे हैं।”

डीविलियर्स से अगला सवाल पूछा गया, उन्होंने आपकी काफी तारीफ की। आप विराट के बारे में क्या कहना चाहेंगे खासतौर पर ये देखते हुए कि अक्सर एबी/विराट/जो रूट/विलियमसन को लेकर बहस होती रहती है। आप एक साथी बल्लेबाज के तौर पर उनकी तारीफ या सम्मान कैसे करते हैं?

इस पर डीविलियर्स ने कहा, “उनके संबंध में मेरा कहना साफ है कि वह एक वर्ल्ड क्लास खिलाड़ी हैं। वह एक टॉप-क्लास खिलाड़ी हैं। जब वह रन बना रहे होते हैं तो उनका रोकना मुश्किल होता है। इसलिए हमारी योजना किसी अन्य विश्वस्तर के बल्लेबाज की तरह उन्हें जल्दी अस्थिर करने की होगी। अगर आप उन्हें जल्दी आउट नहीं करोगे तो वह आपके लिए परेशानी का सबब बन सकते हैं। जब वह रन बना रहे होते हैं तो वह बहुत बढ़िया प्रदर्शन करते हैं। वह आपका परेशान कर सकते हैं और गेंदबाजी आक्रमण को पंगु बना सकते हैं और आपकी पकड़ से मैच दूर ले जा सकते हैं। मैं उन्हें बहुत अच्छी तरह से जानता हूं, हम साथ- साथ कुछ सालों के लिए बैंगलोर में खेले हैं। मैं उनकी मैदान के बाहर ज्यादा तारीफ करता हूं। वह एक अच्छे दिल के साथ अच्छे इंसान हैं। जिस तरह वह क्रिकेट खेलते हैं, मुझे पसंद है। वह काफी प्रतिस्पर्धी हैं। उन्हें शीर्ष पर रहना हमेशा पसंद है। इसी तरह की चीजें मैं भी अपनी क्रिकेट में लागू करता हूं। मुझे होड़ लगाना पसंद है, और इस तरह टीम की जीत में योगदान देना भी।”