भारतीय क्रिकेट टीम इस समय न्यूजीलैंड में मेजबान टीम के खिलाफ 2 मैचों की टेस्ट सीरीज खेल रही है. वेलिंगटन में खेले गए सीरीज के पहले टेस्ट मैच में न्यूजीलैंड को भारत को 10 विकेट से रौंद दिया. मौजूदा सीरीज में कप्तान विराट कोहली सहित चेतेश्वर पुजारा का बल्ला अब तक खामोश है. घरेलू क्रिकेट में रनों का अंबार लगाने वाले वसीम जाफर ने कहा है कि भारतीय बल्लेबाज जब तक अच्छी शुरूआत को बड़े स्कोर में तब्दील नहीं करते तब तक न्यूजीलैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में वापसी करना बहुत मुश्किल होगा.

मैंने कमजोर गेंदों का इंतजार किया और उन्हीं पर रन बनाया : शेफाली वर्मा

पहले टेस्ट में मेजबान टीम के तेज गेंदबाजों टिम साउदी, ट्रेंट बोल्ट और काइल जैमीसन ने कहर बरपाया. जाफर ने पीटीआई से कहा, ‘विराट थोड़े समय से खराब फॉर्म में चल रहे हैं इसलिए मुझे उसके शानदार तरीके से वापसी की उम्मीद है. पुजारा को कुछ रन जुटाने होंगे. सबसे अहम बात है कि उन्हें अपनी शुरूआत को तीन अंकों के स्कोर में तब्दील करना होगा. अगर ऐसा नहीं होता है और अगर हम 350 से 400 रन तक स्कोर नहीं बनाते हैं तो काफी मुश्किल होगी.’

‘200 और 250 रन के स्कोर से आप टेस्ट नहीं जीत सकते’

इस पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज ने कहा, ‘200 से 250 रन के स्कोर से आप टेस्ट मैच नहीं जीत सकते, जब तक कि आपको पिच से मदद नहीं मिले. जब हम पहले या दूसरी बार बल्लेबाजी करते हैं तो हमें 400 से 450 तक रन बनाने होंगे.’

जाफर मुंबई में चल रही डीवाई पाटिल टी20 कप में एक टीम को कोचिंग दे रहे हैं. जाफर को यह भी लगता है कि भारतीय टीम का पहले टेस्ट में 200 रन से कम स्कोर पर आउट होना खेल के लंबे प्रारूप में उसकी नंबर एक रैंकिंग के अनुरूप नहीं था.

16 साल की शेफाली वर्मा ने रचा इतिहास, स्ट्राइक रेट में इन दिग्गजों को दी मात

उन्होंने कहा, ‘कीवी टीम ने हमारी रन गति पर लगाम कसी और लंबे समय तक हमारे बल्लेबाजों को दबाव में रखा. मुझे लगा कि पहली पारी में हालात गेंदबाजों के लिए मददगार थे लेकिन उन्होंने बाउंसर डालने की रणनीति अपनायी. हमें दूसरी पारी में अच्छी बल्लेबाजी करनी चाहिए थी. दोनों पारियों में 200 से कम स्कोर पर आउट होना नंबर एक टेस्ट टीम के अनुरूप नहीं है.’

टीम इंडिया की वापसी का जताया भरोसा 

जाफर को पूरा भरोसा है कि भारतीय टीम वापसी करेगी जैसा उसने पहले भी किया है. उन्होंने कहा, ‘इसमें कोई शक नहीं कि वे अगले क्राइस्टचर्च में होने वाले टेस्ट में वापसी करेंगे, जो उन्हें करना चाहिए और बीते समय में उन्होंने हमेशा ऐसा किया है. जब भी उन्हें दबाव में लाया जाता है, वे हमेशा मजबूती से वापसी करते हैं. मैं भी इसी चीज की उम्मीद कर रहा हूं.’

भारत और न्यूजीलैंड के बीच सीरीज का दूसरा और अंतिम टेस्ट मैच 29 फरवरी से क्राइस्टचर्च में खेला जाएगा.