Injury management important after Coronavirus Pandemic; Says Irfan Pathan
Irfan Pathan @ians

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व ऑलराउंडर इरफान पठान (Irfan Pathan) का मानना है कि भारतीय टीम मैनेजमेंट को कोरोना वायरस महामारी के बाद खेल बहाल होने पर गेंदबाजों की चोटों के प्रबंधन को लेकर काफी सतर्कता बरतनी होगी।

रिकी पोंटिंग ने ऐसा क्‍या कर दिया जो हार्दिक पांड्या ने उन्‍हें दी पिता के बराबर जगह ?

भारतीय खिलाड़ियों ने 25 मार्च के बाद से अभ्यास नहीं किया है। कोरोना महामारी के बाद तब से देशव्यापी लॉकडाउन लागू था। तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर ने पिछले महीने बोइसर में अभ्यास शुरू कर दिया।

पठान ने कहा कि इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) टीमों समेत सभी टीमों को गेंदबाजों को लेकर अतिरिक्त सावधानी बरतनी होगी क्योंकि दो महीने बाद मैदान पर लौटने पर चोटों की संभावना अधिक होगी।

Test-T20 एक साथ हुए तो किरण मोरे की टीम में रोहित-विराट की टी20 में नो एंट्री, जानें प्‍लेइंग-11

उन्होंने स्टार स्पोटर्स के शो ‘क्रिकेट कनेक्टेड’ पर कहा, ‘चोटों का मैनेजमेंट सबसे अहम है। हमें गेंदबाजों पर फोकस करना होगा।’ आईसीसी ने भी हाल ही में गेंदबाजों के लिए खास दिशा-निर्देश जारी करते हुए कहा था कि टीमों को गेंदबाजों के कार्यभार को लेकर सजग रहना होगा। पठान 2007 टी20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्य थे।