जहीर खान © IANS
जहीर खान © IANS

दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान जहीर खान का कहना है कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण में शनिवार को मिली हार का मुख्य कारण टीम में बल्लेबाजों के बीच अच्छी साझेदारी की कमी है। इस संस्करण का अपना पहला मैच खेलने उतरी दिल्ली की टीम को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने 15 रनों से मात दी। इस मैच के जरिये बेंगलोर की टीम ने अपनी पहली जीत दर्ज की। वेबसाइट ‘ईएसपीएनक्रिकइन्फो डॉट कॉम’ की रिपोर्ट के अनुसार, बेंगलोर टीम के खिलाफ मैच में दिल्ली टीम के लिए अर्धशतकीय पारी खेलने वाले 19 वर्षीय खिलाड़ी ऋषभ पंत की भी जहीर ने सराहना की। इस मैच में ऋषभ ने 57 रन बनाए थे।

जहीर ने कहा, “अगर देखा जाए तो 10 में से आठ बार हम इतना ही स्कोर कर पाए हैं। हमारी टीम में दो बल्लेबाजों के बीच अच्छी साझेदारी की कमी है। यह विकेट बल्लेबाजी के लिए अच्छी थी। हालांकि, यह अभी टूर्नामेंट की शुरुआत है। हमारे पास अच्छे तेज और स्पिन गेंदबाज हैं।” ऋषभ की प्रशंसा करते हुए जहीर ने कहा, “पंत ने अच्छा प्रदर्शन किया। हालांकि, उन्हें दूसरी ओर से समर्थन नहीं मिला। हम सब जानते हैं कि पंत गहरे सदमे से गुजर रहे हैं और ऐसे समय में हम सब उनके साथ हैं।” उल्लेखनीय है कि हाल ही में पंत के पिता का निधन हुआ है। [आईपीएल 10-दिल्ली डेयरडेविल्स बनाम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर मुकाबले का स्कोरकार्ड ]

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर ने दिल्ली डेयरडेविल्स को 15 रनों से हरा कर अपना खाता खोला। चैलेंजर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 157 रन बनाए थे। दिल्ली की टीम पूरे ओवर खेलने के बाद नौ विकेट के नुकसान पर 142 रन ही बना सकी और अपना पहला मैच हार गई। दिल्ली के लिए युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत सर्वोच्च स्कोरर रहे। उन्होंने 36 गेंदों में चार छक्के और तीन चौके की मदद से 57 रनों की पारी खेली। दिल्ली के सिर्फ चार बल्लेबाज ही दहाई के आंकड़े तक पहुंच सके।

पूरी पारी में सिर्फ पंत ही दिल्ली की तरफ से संघर्ष कर सके। दूसरे छोर से उन्हें साथ नहीं मिला। बेंगलोर के गेंदबाजों ने नियमित अंतराल पर विकेट लेकर दिल्ली को हमेशा बैकफुट पर रखा। बेंगलोर के लिए इकबाल अब्दुल्ला, बिली स्टानलेक और पवन नेगी ने दो-दो विकेट लिए।