IPL 2019:Chennai Super Kings aim to seal play-off berth against Royal Challengers Bangalore
MS Dhoni with team @BCCI

चेन्नई सुपरकिंग्स टीम इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) मुकाबले में रविवार को रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ जब मैदान में उतरेगी तो उसकी नजरें पिछले मैच में मिली हार को भुलाकर प्लेऑफ के लिए जगह पक्की करने पर होगी।

पढ़ें: टीम को जरूरत पड़ी तो विश्व कप खेलने को तैयार है नवदीप सैनी

गत चैंपियन चेन्नई की टीम को पिछले मैच में सनराइजर्स हैदराबाद से हार का सामना करना पड़ा था जो मौजूदा सत्र में उसकी सिर्फ दूसरी हार थी। बैंगलुरू के खिलाफ अगर टीम जीत दर्ज करती है तो उसके 16 अंक हो जाऐंगे जो अंतिम चार में जगह पक्की करने के लिए काफी होगा।

हैदराबाद के खिलाफ चोट के कारण टीम के नियमित कप्तान महेंद्र सिंह धोनी मैदान में नहीं उतर पाए थे लेकिन रविवार को होने वाले मैच के लिए उनके फिट रहने की उम्मीद है।

पढ़ें: हैदराबाद के खिलाफ कोलकाता तोड़ना चाहेगी लगातार हार का सिलसिला

टूर्नामेंट का शुरूआती मैच खेलने वाली दोनों टीमों का अभियान बिल्कुल अलग तरह का रहा है। चेन्नई की टीम एक बार फिर उम्मीदों पर खरी उतरी तो वहीं बैंगलुरू का प्रदर्शन निराशाजनक रहा है।

बढ़े हुए हौसलों के साथ उतरेगी बैंगलुरू

इसमें कोई शक नहीं कि शुक्रवार को कोलकाता के खिलाफ जीत दर्ज करने वाली बैंगलुरू की टीम का हौसला बढ़ा होगा। आंद्रे रसेल और नितीश राणा की ताबड़तोड़ पारियों के बावजूद बैंगलुरू जीत दर्ज करने में सफल रही। टीम की 9 मैचों में यह सिर्फ दूसरी जीत है लेकिन वह अब भी प्लेऑफ की दौड़ में बनी हुई है।

बैंगलुरू की टीम हालांकि 2016 के प्रदर्शन से प्रेरणा ले सकती है जब उसने शुरूआती सात में से पांच मैच गवांने के बाद अंतिम सात में से छह मैचों को जीतकर प्लेऑफ में जगह पक्की की थी।

हो सकती है डिविलियर्स की वापसी

कोलकाता के खिलाफ दिग्गज एबी डिविलियर्स की गैरमौजूदगी में कप्तान विराट कोहली ने जिम्मेदारी से बल्लेबाजी करते हुए सत्र की अपनी पहली शतकीय पारी खेलकर टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाया। डिविलियर्स की संभावित वापसी से बैंगलुरू टीम घरेलू मैदान में सत्र के आखिरी मैच में प्रशंसकों को जीत का जश्न मनाने का मौका देना चाहेगी।

स्‍टेन की वापसी के बावजूद आरसीबी की गेंदबाजी चिंता का विषय

टीम में डेल स्टेन के आने के बाद भी गेंदबाजी चिंता का सबब बनी हुई है। इसका उदाहरण कोलकाता में भी दिखा जब रसेल और राणा की जोड़ी अंतिम छह ओवरों में जीत के लिए जरूरी लगभग 113 रन के असंभव लक्ष्य के करीब पहुंच गई थी।

चेन्‍नई को ताहिर और धोनी से होगी उम्‍मीदें

40 साल के इमरान ताहिर चेन्नई के स्टार गेंदबाज रहे हैं। उन्होंने कप्तान की योजना को मैदान पर बखूब उतारा है और अब तक 15 विकेट चटकाए हैं। चेन्नई को कप्तान धोनी से भी उम्मीदें होंगी जिन्होंने इस सत्र में आठ मैचों में दो अर्धशतक की मदद से 230 रन बनाए हैं।