IPL 2020: Rajasthan Royals to practice in Guwahati from 27 to 29 February
श्रेयस गोपाल, बेन स्टोक्स (AFP)

राजस्थान उच्च न्यायालय, राजस्थान रॉयल्स के दो आईपीएल मैचों के गुवाहाटी में आयोजित करने के मामले पर 17 मार्च को सुनवाई कर फैसला सुनाएगा। इसी बीच फ्रेंचाइजी ने फैसला किया है कि वो गुवाहाटी के बारसापरा क्रिकेट स्टेडियम में तीन दिवसीय शिविर का आयोजन करेगी, जिससे खिलाड़ियों को दूसरे होम ग्राउंड की परिस्थितियों को समझने में मदद मिलेगी।

इस मामले से संबंध रखने वाले एक सूत्र ने आईएएनएस से कहा कि राजस्थान रॉयल्स टीम के खिलाड़ी 27 से 29 फरवरी के बीच गुवाहाटी में अभ्यास करेंगे, जिनमें रॉबिन उथप्पा भी शामिल होंगे। इस शिविर को फ्रेंचाइजी के हेड ऑफ क्रिकेट जुबीन भारूचा और बल्लेबाजी कोच अमोल मजूमदार तथा फील्डिंग कोच दिशांत यागनिक की देखरेख में आयोजित किया जाएगा।

सूत्र ने कहा, “खिलाड़ी गुरुवार से शनिवार तक शिविर में हिस्सा लेंगे। इसमें उथप्पा भी शामिल होंगे। घरेलू क्रिकेट के कुछ अन्य बड़े नाम भी इसमें हिस्सा ले सकते हैं, लेकिन ये इस पर भी निर्भर करता है कि वो अपनी प्रदेश की रणजी टीमों के साथ कहां हैं, क्योंकि अभी रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल शुरू होने वाले हैं। इस शिविर के पीछे का मकसद ये है कि हम परिस्थितियों को समझ सकें, क्योंकि अगर अदालत से हमें मंजूरी मिल जाती है तो ये हमारा दूसरा होम ग्राउंड होगा।”

वेलिंगटन में काइल जेमीसन के शानदार प्रदर्शन से बढ़ी न्यूजीलैंड की परेशानी

राजस्थान रॉयल्स के अपने कुछ घरेलू मैचों को स्थानांतिरत करने के फैसले के खिलाफ जनहित याचिका दाखिल की गई थी, जिस पर उच्च न्यायालय 17 मार्च को सुनवाई कर फैसला सुनाएगा।

बीसीसीआई ने हालांकि फ्रेंचाइजी के फैसले का समर्थन किया है और साफ तौर पर कहा था कि दूसरे होम ग्राउंड की अपील करने में फ्रेंचाइजी ने किसी भी तरह से नियमों का उल्लंघन नहीं किया है।

कुछ दिन पहले जारी किए गए कार्यक्रम के मुताबिक, रॉयल्स की टीम को दो अप्रैल को चेन्नई सुपर किंग्स और पांच अप्रैल को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ खेलना है। ये दोनों मैच या तो जयपुर या गुवाहाटी में आयोजित होने हैं। इसके बाद नौ अप्रैल को रायल्स को जयपुर या गुवाहाटी में कोलकाता नाइट राइडर्स की मेजबानी करनी हैं।

खराब प्रदर्शन के बाद कोहली ने बल्लेबाजों को दी सलाह- घबराने से नहीं हल होगी परेशानी

इससे पहले, फ्रेंचाइजी के एक अधिकारी ने आईएएनएस से कहा था कि टीम के कुछ मैच गुवाहाटी में आयोजित करने के पीछे कई कारण हैं और यह सिर्फ कमाई के लिए नहीं किया जा रहा है।

उन्होंने कहा था, “इसमें कोई छुपाने वाली बात नहीं है कि जो कमाई की जाएगी वो एक मुद्दा है, लेकिन ये हमारे घर के मैच गुवाहाटी ले जाने का एक मात्र कारण नहीं है। हम खेल को पूर्वोत्तर के इलाके में बढ़ाना चाहते हैं। गुवाहाटी में कई लोग राजस्थान के भी हैं और हमें लगता है कि अगर वे लोग अपने पसंदीदा खिलाड़ियों को सामने देख सकेंगे तो ये अच्छा होगा।”

खराब प्रदर्शन के बाद कोहली ने बल्लेबाजों को दी सलाह- घबराने से नहीं हल होगी परेशानी

अधिकारी ने कहा, “इसके अलावा, हम पूर्वोत्तर में जमीनी स्तर पर काम करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं। आप देख सकते हैं कि वहां अकादमियां खोली जा चुकी हैं। इसलिए हम स्थानीय खिलाड़ियों के पास खेल को ले जा रहे हैं। ये मत भूलिए कि रियान पराग स्थानीय खिलाड़ी हैं जो स्टार हैं। हम किसी के खिलाफ नहीं हैं और हम समझते हैं कि अदालत भी हमें समझेगी कि हम कुछ मैच बाहर ले जाकर किसी की भावना को ठेस नहीं पहुंचा रहे हैं।”