टीम इंडिया सीनियर ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह (harbhajan Singh) और केदार जाधव (Kedar Jadhav) ने आईपीएल नीलामी (IPL Auction 2021) के दूसरे चरण में राहत की सांस ली होगी. इन दोनों खिलाड़ियों को नीलामी के पहले राउंड में किसी टीम ने नहीं खरीदा था. लेकिन दोनों का नाम जब दूसरे दौर में लिया गया तो दोनों पर बारी-बारी कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) और सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) की टीम ने उनके बेस प्राइज कीमत पर खरीद लिया. दोनों ही खिलाड़ी इससे पहले चेन्नई सुपरकिग्स (CSK) का हिस्सा थे. हालांकि भज्जी पिछले सीजन निजी कारणों से आईपीएल में नहीं खेल पाए थे.

भज्जी लंबे समय से किसी भी प्रकार की क्रिकेट नहीं खेले हैं तो शायद इसीलिए आईपीएल की टीमों ने पहले राउंड में इस दिग्गज ऑफ स्पिनर को खरीदने में हिचकिचाहट दिखाई हो, जबकि केदार जाधव पिछली बार आईपीएल में फ्लॉप साबित हुए थे. दूसरे राउंड में जब इन दोनों खिलाड़ियों का नाम सामने आया तो भज्जी के नाम पर शाहरुख खान की मालिकाना हक वाली कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) ने बेस प्राइज पर दाव खेला, तो वहीं टीम इंडिया में थोड़े समय के लिए मैच फिनिशर की भूमिका निभा चुके केदार जाधव पर सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने दाव खेलकर अपने-अपने पाले में कर लिया.

अब यह देखना दिलचस्प होगा कि दोनों खिलाड़ी आईपीएल के इस 14वें सीजन में क्या-क्या कमाल कर पाते हैं. भज्जी हालांकि आईपीएल 2019 के बाद से कोई स्तरीय क्रिकेट नहीं खेले हैं. उन्होंने अपना आखिरी मैच मुंबई इंडियन्स के खिलाफ मई 2019 में खेला था. वहीं दूसरी ओर जाधव हाल ही में संपन्न हुई सैयद मुश्ताल अली ट्रॉफी (Syed Mushtaq Ali Trophy 2021) में महाराष्ट्र के लिए खेले थे. यहां उन्होंने छत्तीसगढ़ और उत्तराखंड के खिलाफ दो हाफ सेंचुरी जड़ी थी. इसके बावजूद पहले राउंड में किसी भी टीम ने उन्हें खरीदने में दिलचस्पी नहीं दिखाई.

इन दोनों खिलाड़ियों की तरह कर्नाटक के बल्लेबाज करुण नायर (Karun Nair) भी खुद को भाग्यशाली मान रहे होंगे. नायर को भी पहले राउंड में किसी फ्रैंचाइजी ने नहीं खरीदा था लेकिन दूसरे दौर में कोलकाता नाइट राइडर्स ने ही उन्हें बेस प्राइज में अपने पाले में किया.