Irani Cup: Every Ranji team should learn from Vidarabha; Says Ajinkya Rahane
ajinkya-rahane © AFP

विदर्भ ने शेष भारत के खिलाफ पहली पारी में बढ़त के आधार पर ईरानी कप लगातार दूसरी बार अपने नाम कर लिया।

पढ़ें: रणजी चैंपियन विदर्भ ने लगातार दूसरी बार जीता ईरानी कप

शेष भारत के कप्‍तान अजिंक्‍य रहाणे का कहना है कि सभी रणजी टीमों को विदर्भ से सीखना  चाहिए। दोनों टीमों के बीच पांच दिवसीय ईरानी कप ड्रॉ पर खत्‍म हुआ लेकिन पहली पारी में बढ़त के आधार पर विदर्भ को विजेता घोषित किया गया।

विदर्भ ने रणजी ट्रॉफी और ईरानी कप ट्रॉफी लगातार दूसरी बार अपने नाम किया। ये कारनामा करने वाली वाली विदर्भ तीसरी टीम है। इससे पहले मुंबई और कर्नाटक ने भी रणजी और ईरानी कप अपने लगातार दो बार अपने नाम किया था।

पढ़ें: विदर्भ टीम ने ईरानी कप की ईनाम राशि पुलवामा शहीदों के परिवारों के नाम की

मैच के बाद रहाणे ने कहा, ‘ मैं विदर्भ को बधाई देना चाहूंगा। रणजी ट्रॉफी के बाद ईरानी कप जीतना आसान नहीं है। रणजी की सभी टीमों को उनसे सीखना चाहिए। हमारे पास मौके थे लेकिन हमने पहली पारी में 100 रन के अंदर आठ विकेट गंवा दिए। इस फॉर्मेट में ऐसा करना इजाजत नहीं देता। श्रेय हमारे गेंदबाजों को जाता है।’

रहाणे ने पहली पारी में 13 जबकि दूसरी पारी में 87 रन बनाए। हनुमा विहारी ने दूसरी पारी में नाबाद 180 रन की पारी खेली।

बकौल रहाणे, ‘ हनुमा विहारी के साथ बातचीत हुई कि हम साझेदारी बनाएंगे। हम जानते थे कि यदि 250-260 का स्‍कोर होगा तो हम इसे हासिल कर लेंगे। हमारे पास मैके थे। लेकिन विदर्भ ने अच्‍छा प्रदर्शन किया। ये 400 से अधिक रन वाला विकेट था।’