भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व विस्‍फोटक ओपनर वीरेंद्र सहवाग ने पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ के 40 जवानों के बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाने की जिम्मेदारी ली है।

पढ़ें: रणजी चैंपियन विदर्भ ने लगातार दूसरी बार जीता ईरानी कप

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में गुरुवार को हुए इस आतंकवादी हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे और कई बुरी तरह से घायल हो गए।

सहवाग ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘हम शहीदों के लिए कुछ भी करें तो वह काफी नहीं होगा, लेकिन पुलवामा में शहीद हुए सीआरपीएफ के जवानों के बच्चों की पढ़ाई का झज्जर स्थित सहवाग स्कूल में मैं पूरा खर्च उठाने का प्रस्ताव देता हूं। सौभाग्य होगा।’

पढ़ें; इंग्लैंड में शुरू हुई प्रक्रिया ऑस्ट्रेलिया में काम आई: रिषभ पंत

भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज ने पहले भी ट्वीट कर कहा था, ‘जम्मू-कश्मीर में सीआरपीएफ जवानों पर हुए इस कायराना हमले ने बहुत दर्द पहुंचाया है। इसमें हमारे वीर जवान शहीद हुए हैं। दर्द को बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं। उम्मीद करता हूं घायल जवान जल्दी ठीक होंगे।’

स्टार मुक्केबाज विजेन्दर सिंह ने भी अपने एक महीने का वेतन शहीदों के परिवारों के लिए दान किया। विजेन्दर हरियाणा पुलिस में कार्यरत हैं।

ओलंपिक पदक विजेता ने कहा, ‘मैं एक महीने का वेतन पुलवामा आतंकवादी हमले में शहीद हुए जवानों के लिए दान कर रहा हूं और चाहता हूं कि हर कोई उनके परिवारों की मदद के लिए आगे आए। यह हमारा नैतिक कर्तव्य है कि हम उनके साथ खड़े रहें और उनके बलिदान पर गर्व महसूस करें। जय हिन्द।’