James Neesham takes a dig at ICC for changing super over rule after controversy in World Cup final between England and New Zealand
बेन स्टोक्स (IANS)

विश्व कप फाइनल में सुपर ओवर टाई होने के बाद न्यूजीलैंड के खिलाफ इंग्लैंड को विजेता घोषित किए जाने के बाद शुरू हुए विवाद के को ध्यान रखते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने सभी बड़े टूर्नामेंटों के लिए सुपर ओवर के नियमों में बदलाव किया है। जिसके बाद कीवी ऑलराउंडर जेम्स नीशम ने आईसीसी की चुटकी ली है।

नीशम ने ट्वीट किया, “अब हमारा अगला काम टाइटैनिक पर आइसबर्ग का पता लगाने वालों के लिए अच्छे दूरबीन बनाने का है।” न्यूजीलैंड के इस खिलाड़ी के इस ट्वीट का मतलब है कि आईसीसी ने बड़ी गलती होने के बाद नियम बदलने का फैसला किया है, जो कि अब कीवी टीम के लिए बेमतलब है।

न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच खेले गए फाइनल में दोनों टीमों ने एक समान 241 रन बनाए जिसके बाद सुपर ओवर किया गया। सुपर ओवर में भी दोनों टीमों ने 15-15 रन बनाए और मैच टाई रहा। इसके बाद ज्यादा बाउंड्री लगाने के कारण इंग्लैंड को विजेता घोषित किया गया। इस विवादित नियम के कारण आईसीसी को काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था।

सबसे पहले प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों की आर्थिक स्थिति ठीक करूंगा: सौरव गांगुली

आईसीसी ने अब नियमों में बदलाव किया है जिसके मुताबिक अगर सेमीफाइनल और फाइनल मुकाबले में सुपर ओवर में भी दोनों टीमें बराबर रन बनाती है तो फिर से सुपर ओवर होगा। सुपर ओवर तब तक होगा जब तक कोई एक टीम विजेता नहीं बन जाती। बता दें कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने पहले ही बिग बैश लीग और अपने प्रमुख घरेलू टूर्नामेंट्स के फाइनल मैचों के लिए ये नियम बना दिया था।

आईसीसी की बोर्ड की बैठक के बाद जारी बयान में कहा गया, ‘‘आईसीसी क्रिकेट समिति, मुख्य कार्यकारी अधिकारियों (सीईसी) की समिति की सिफारिश के बाद ये सहमति बनीं की सुपर ओवर का उपयोग आईसीसी के मैचों में जारी रहेगा और इसे तब तक किया जाएगा जब तक टूर्नामेंट का परिणाम स्पष्ट तरीके से नहीं निकल जाए। इस मामले में क्रिकेट समिति और सीईसी दोनों सहमत थे कि खेल को रोमांचक और आकर्षक बनाने के लिए वनडे और टी20 विश्व कप के सभी मैचों में इसका इस्तेमाल किया जाएगा।’’

बयान के मुताबिक, ‘‘ग्रुप स्तर पर अगर सुपर ओवर के बाद भी मैच टाई रहता है तो उसे टाई माना जाएगा लेकिन सेमीफाइनल और फाइनल में सुपर ओवर तब तक कराया जाएगा जब तक एक टीम ज्यादा रन नहीं बना लेती।’’