Jhulan Goswami becomes first woman cricketer to complete 300 international wicket
Jhulan Goswami (File Photo) © Getty Images

भारतीय महिला टीम की तेज गेंदबाज झूलन गोस्‍वामी ने बुधवार को अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में एक नया कीर्तिमान स्‍थापित किया।  श्रीलंका के खिलाफ गॉल में खेलते हुए झूलन गोस्‍वामी ने अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में अपने 300 विकेट पूरे किए। इसके साथ ही वो अंतरराष्‍ट्रीय महिला क्रिकेट में पहली ऐसी खिलाड़ी बन गई हैं जिन्‍होंने 300 विकेट लिए हों। झूलन गोस्‍वामी ने श्रीलंका की निपुनी हंसिका को अपना 300वां शिकार बनाया। उन्‍होंने हंसिका को विकेट के पीछे आउट कराया।

नहीं था इस रिकॉर्ड की तरफ मेरा ध्‍यान

वूमेन क्रिकजोन से बातचीत के दौरान झूलन गोस्‍वामी ने कहा, “जब मैने खेलना शुरू किया तो मुझे 300 विकेट पूरे होने के बारे में जानकारी भी नहीं थी। मैं बस अपने देश के लिए खेलकर विकेट लेना चाहती हूं।” 35 साल की झूलन गोस्‍वामी ने साल 2002 में अपने क्रिकेटिंग करियर की शुरुआत की थी। तब से लेकर वो अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट में 301 विकेट ले चुकी हैं। स्‍वामी ने 10 टेस्‍ट में 40 विकेट निकाले। वनडे में 170 मैचों में 205 विकेट निकालने के अलावा 68 टी-20 में उनके नाम 56 विकेट रहे।

टी-20 क्रिकेट है काफी तेज, मैं धीरे-धीरे हो रही हूं स्‍लो

झूलन गोस्‍वामी ने हाल ही में टी-20 क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा भी की है। इसपर झूलन गोस्‍वामी ने कहा, “टी-20 क्रिकेट थोड़ा तेज गेम है और मैं धीरे-धीरे स्‍लो होती जा रही हूं। मुझे लग रहा है कि मैं अपने खेल में टी-20 को वनडे से मिलाती जा रही हूं। जिसके कारण मैं अपनी गेंदबाजी को इंज्‍वाय नहीं कर पा रही हूं।” झूलन गोस्‍वामी से उनके करियर की सबसे शानदार विकेट निकालने के बारे में पूछा गया। इसपर उन्‍होंने कहा, “साल 2006 में मैने केरन रोल्टन को टेस्‍ट मैच में आउट किया था, ये मेरी करियर की सबसे शादगार विकेट है। इसके अलावा भी कई स्‍पेशल स्‍पेल हैं, लेकिन उस दौरान हमारी टीम जीत नहीं सकी।”