Jofra Archer is finding it hard trying to back up all the time, says Ricky Ponting
जोफ्रा आर्चर (Twitter)

लीड्स टेस्ट में शानदार 6 विकेट हॉल लेकर सभी को प्रभावित करने इंग्लैंड तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर मैनचेस्टर टेस्ट के पहले दिन कुछ खास नहीं कर सके। आर्चर चौथे एशेज टेस्ट के पहले दिन 10 ओवर में 28 रन देकर एक भी विकेट हासिल नहीं कर सके। गौर करने वाली बात है कि आर्चर ने मैच के पहले दिन ज्यादा शॉर्ट गेंदो और बाउंसर का इस्तेमाल नहीं किया।

हालांकि पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान रिकी पॉन्टिंग चाहते हैं कि आर्चर जितना हो सके उतनी तेज गति से गेंदबाजी कराएं। क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से बातचीत में उन्होंने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो, मैं पूरे समय उसके बारे में सोचता रहा। तेज गेंदबाज के लिए टेस्ट क्रिकेट आसान नहीं होता। वो कितना तेज गेंदबाजी कर सकता है इसे लेकर काफी सारी उम्मीदें हैं और ये ठीक है, लेकिन महान तेज गेंदबाज बनने या टेस्ट क्रिकेट में अच्छा तेज गेंदबाज बनने के लिए आपको हर दिन, हर स्पेल में वहीं करना होगा। बात एक स्पेल की नहीं है। जैसा कि हम कहते हैं, एक अच्छी पारी और एक अच्छे स्पेल से पूरा सीजन नहीं बनता।”

स्टुअर्ट ब्रॉड के खिलाफ आक्रामक होकर खेलें डेविड वार्नर: पॉन्टिंग

मैनचेस्टर टेस्ट के पहले दिन आर्चर के प्रदर्शन का आकलन करते हुए पॉन्टिंग ने कहा, “केवल मुझे ही ऐसा लग रहा है या वास्तव में उसे बैक अप में मुश्किल हो रही है। अगर इंग्लैंड पिछले हफ्ते के मूमेंटम को बरकरार रखना चाहता है तो फिर उन्हें खेल की शुरुआत में ही छाप छोड़नी होगी। इसके लिए ब्रॉड और आर्चर को वो करना होगा जो वो करते आए हैं- जितना हो सके उतना तेज गेंदबाजी करना और आर्चर ने अपने पहले स्पेल में ऐसा नहीं किया।”

पूर्व बल्लेबाज ने आगे कहा, “मुझे लगता है कि उसने पहले स्पेल में स्मिथ के खिलाफ केवल सात गेंद कराई और फिर उसे हटा दिया गया। ऐसा लग रहा था जैसे उसने कप्तान से एंड बदलने की गुजारिश जो कि ब्रॉड के हक में नहीं किया और उसके लिए भी काम नहीं किया। वो अपने पूरे करियर में ऐसी चुनौतियों का सामना करेगा।”