Josh Hazelwood: Public poll should be used to could get feedback on Test pitches
Josh Hazlewood © Getty Images

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए दूसरे टेस्ट मैच के बाद पर्थ के नए ऑप्टस स्टेडियम को आईसीसी से औसत रेटिंग मिलने के बाद से पूर्व दिग्गजों और क्रिकेट समीक्षकों के बीच आदर्श टेस्ट क्रिकेट पिच को लेकर बहस छिड़ गई है। जहां सचिन तेंदुलकर, माइकल वॉन और मिशेल जॉनसन जैसे दिग्गजों ने पर्थ की पिच का समर्थन किया है, वहीं कई लोग इसे खतरनाक बता रहे हैं। इसी बीच ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड ने पिचों की रेटिंग के लिए नया तरीका निकालने की बात कही।

विराट कोहली ने दिखाया तीनों फॉर्मेट में कैसे सफल होते हैं: राहुल द्रविड़

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया वेबसाइट ने हेजलवुड के हवाले से लिखा, “मुझे लगता है कि किसी एक शख्स के रेटिंग देने के बजाय मैच से जुड़े खिलाड़ियों और स्टाफ से वोट करवाया जाना चाहिए। आपको खिलाड़ियों से एक विस्तृत फीडबैक मिलेगा। इतना ही नहीं फैंस से भी अच्छा या बुरा फीडबैक लिया जा सकता है। मुझे लगता है कि पहले दोनों मैचों कि पिचों को खिलाड़ियों और दर्शकों ने पसंद किया है।”

‘पर्थ की पिच को खराब रेटिंग देना गलत, इससे ये बल्‍लेबाजों का खेल बन जाएगा’

पूर्व भारतीय क्रिकेटर और कमेंटेटर आकाश चोपड़ा ने पिच को खतरनाक कहा था। इस बारे में हेजलवुड ने कहा, “कुछ गेंद खिलाड़ियों को कंधे और सिर पर गेंद लगी लेकिन ये टेस्ट क्रिकेट है। आप 140 की रफ्तार से गेंद कर रहे हैं तो लोगों को गेंद लगेगी ही।”

हेजलवुड ने आगे कहा, “मुझे लगता है कि ये अच्छा विकेट था। आप एक विकेट से और क्या चाहते हैं? ये एक प्रतिद्वंदी क्रिकेट मैच था और पांच दिन चला। जहां तक मेरा विचार है, इस पिच ने हर बॉक्स टिक किया।”