Josh Hazlewood acknowledges Australia bowled too many bouncer against Rory Burns
जॉश हेजलवुड (IANS)

मैनचेस्टर टेस्ट में एशेज सीरीज में वापसी कर रहे स्टीव स्मिथ ने मैच से पहले दिए बयान में कहा था कि अगर इंग्लैंड टीम उनके खिलाफ ज्यादा शॉर्ट गेंद करेगी तो वो उनके आउट होने की संभावना कम होगी। हालांकि ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी खुद ही स्मिथ के इस बयान को भूल गए और मैच के तीसरे दिन इंग्लिश बल्लेबाज रोरी बर्न्स के खिलाफ ज्यादा शॉर्ट गेंदे कराई।

तेज गेंदबाज जॉश हेजलवुड ने माना कि बर्न्स को आउट करने की कोशिश में ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने जरूरत से ज्यादा बाउंसर का इस्तेमाल किया। मैच के बाद उन्होंने कहा, “शायद हमने पहले सेशन में थोड़ा ज्यादा शॉर्ट गेंद कराई और फिर दूसरे सेशन में विकेट को निशाना बनाया। मुझे लगता है कि बर्न्स के खिलाफ ज्यादा शॉर्ट गेंदबाजी करने से आप गलत आदत डाल सकते हो।”

पारी की शुरुआत करने आए बर्न्स ने तीसरे विकेट के लिए कप्तान जो रूट के साथ मिलकर शतकीय साझेदारी बनाई। पहले सेशन में बर्न्स की शानदार बल्लेबाज ने मेहमान टीम को दूसरे सेशन के लिए रणनीति में बदलाव करने पर मजबूर किया। टी ब्रेक के बाद हेजलवुड ने 81 रन बना कर खेल रहे बर्न्स को स्मिथ के हाथों कैच आउट कराया।

एशेज टेस्ट: हेजलवुड ने इंग्लैंड को झकझोरा, मेजबान टीम मुश्किल में

हेजलवुड ने कहा कि उन्होंने गेंद की लेंथ बदलकर स्टंप्स तक रखी, जिसका फायदा मिला और मैच के चौथे दिन भी वो इसी लेंथ को बरकरार रखना चाहते हैं। उन्होंने कहा, “दाएं हाथ के बल्लेबाजों के खिलाफ, आपको निश्चित तौर पर लगता है कि अगर गेंद स्टंप्स की ऊंचाई की होगी तो वो एलबीडब्ल्यू या बोल्ड हो सकते हैं। हम कल भी इसी के साथ जाएंगे।”

ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज स्मिथ के बयान को ध्यान में रखकर बल्लेबाजों के सिर नहीं बल्कि स्टंप्स और पैड को निशाना बनाएंगे। तीसरे दिन 200 रन पर 5 विकेट खोकर इंग्लैंड टीम 297 रन से पीछे चल रही है।