Mayank Agarwal Hopeful of repeating Test Success in IPL 2019
Mayank Agarwal (File Photo) @ AFP

ऑस्‍ट्रेलिया की मुश्किल परिस्थितियों में अपना टेस्‍ट डेब्‍यू करने वाले मयंक अग्रवाल का मानना है कि आईपीएल 2019 उनके लिए काफी महत्‍वपूर्ण हैं। मयंक किंग्‍स इलेवन पंजाब का हिस्‍सा हैं। मयंक को उम्‍मीद है कि जिस तरह वो सैयद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में शानदार प्रदर्शन कर कर्नाटक को जीत दिला पाए हैं कुछ वैसी ही पारियां वो इस सीजन में पंजाब के लिए खेलेंगे।

पढ़ें:- कोहली चालाक कप्तान नहीं, धोनी-रोहित से तुलना नहीं होनी चाहिए

पिछले साल इंडिया ए और कर्नाटक के लिए तीन हजार से ज्‍यादा रन बनाने वाले मयंक को ऑस्‍ट्रेलिया के खिलाफ आखिरी दो टेस्‍ट मैच में जगह मिली। दोनों ही मुकाबलों में उन्‍होंने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया। मयंक अग्रवाल सीमित ओवरों के क्रिकेट के भी उम्‍दा खिलाड़ी हैं। पिछले साल वो विजय हजारे ट्रॉफी में सर्वाधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बने। उनके बल्‍ले से 723 रन निकले। जिसके बाद आईपीएल ऑक्‍शन के दौरान पंजाब ने उन्‍हें रिटेन करने का फैसला किया। सभी फॉर्मेट में मिलाकर पिछले साल मयंक के बल्‍ले से 2,141 रन निकले। हालांकि पिछले सीजन में मयंक पंजाब की तरफ से खेलते हुए 11 मैचों में महज 120 रन ही बना पाए थे।

पढ़ें:- आरसीबी को पहला खिताब जिताने का दम रखते हैं ये पांच खिलाड़ी

क्रिकेट नेक्‍सट से बातचीत के दौरान मयंक ने कहा, “जब आपकी फॉर्म अच्‍छी हो और लगातार रन आ रहे हों तो आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में खेलना हमेशा शानदार रहता है। बॉल को खेलने की मेरी टाइमिंग काफी अच्‍छी रही है। हालांकि मैं कोई बड़ी पारी नहीं खेल पाया हूं, लेकिन बड़ी पारी खेलने के लिए फाइनल मुकाबले से अच्‍छा प्‍लेटफॉर्म और क्‍या हो सकता है। फाइनल में रन बनाने में मुझे ज्‍यादा खुशी मिली क्‍योंकि इस प्रदर्शन के बल पर ही कर्नाटक सैयद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी का खिताब जीत सका।”

बता दें कि सैयद मुश्‍ताक अली ट्रॉफी के फाइनल मुकाबले में मयंक ने 85 रन की नाबाद पारी खेली थी। जिसके कारण मैच एकतरफा हो गया और कर्नाटक ने आसान जीत दर्ज की