Mohammad Shami: I have learned to bowl on foreign soil by
Mohammad Shami © Getty Images

इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में भारतीय टीम के लिए जो सकारात्मक चीज रही है वो है तेज गेंदबाजों का शानदार प्रदर्शन। इशांत शर्मा, जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी ने इंग्लैंड के खिलाफ हर मैच में प्रभावशाली गेंदबाजी की। इससे पहले दक्षिण अफ्रीका दौरे पर भी भारतीय तेज गेंदबाजी अटैक सफल रहा है लेकिन शमी इस दौरे पर लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए थे।

हालांकि इंग्लैंड दौरे पर उनकी गेंदबाजी में काफी सुधार आया है। इस बारे में शमी का कहना है कि उन्होंने इंग्लैंड के सीनियर तेंज गेंदबाजों स्टुअर्ट ब्रॉड और जेम्स एंडरसन के वीडियोज देखकर यहां के हालातों का फायदा उठाना सीखा है।

शमी ने कहा, ‘‘अगर आप इस दौरे पर मेरे प्रदर्शन की तुलना 2014 के दौरे से करते हो तो मेरे अंदर काफी सुधार हुआ है। कुल मिलाकर हम सभी ने अच्छा प्रदर्शन किया। मैंने काफी कुछ सीखा है, खासकर ये कि घर से बाहर गेंदबाजी कैसे करनी है, आपकी एकाग्रता कैसी होनी चाहिए।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैंने काफी कुछ सीखा है। जब मैं 2014 में यहां आया था तो मैं इतना अनुभवी नहीं था। मैं परिपक्व भी नहीं था। इस बार मैंने जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्राड के गेंदबाजी करते हुए वीडियो देखे। मैंने देखा कि इन हालात में वे किस जगह गेंदबाजी करते हैं। मुझे काफी सीखने को मिला।’’ शमी दौरे पर खेले गए पांच मैचों में अब तक कुल 16 विकेट ले चुके हैं।

शमी ने कहा, ‘‘कुछ चीजें भाग्य पर भी निर्भर करती हैं। जब आप गेंदबाजी करते हो तो आपका लक्ष्य अच्छी लाइन और लेंथ के साथ गेंदबाजी करना होता है। आपको विकेट मिलता है या नहीं ये भाग्य पर निर्भर करता है। बेशक ये निराशाजनक होता है कि कई बार बल्लेबाज को छकाने के बावजूद विकेट नहीं मिला लेकिन कोई बात नहीं। अल्लाह मुझे जो कुछ भी देगा, मुझे वो स्वीकार है।’’

भारतीय टीम को ओवल टेस्ट के चौथे दिन इशांत शर्मा के बिना गेंदबाजी करनी पड़ी जो सिर्फ एक ओवर फेंकने के बाद एड़ी में चोट के कारण मैदान से बाहर चले गए। इससे शमी और बुमराह की जिम्मेदारी बढ़ गई। इस बारे में उन्होंने कहा, ‘‘आपके पास एक गेंदबाज कम हो तो स्थिति मुश्किल हो जाती है, खासकर इन हालात में जब तेज गेंदबाज के रूप में आपको गेंदबाजी करनी होती है। भार अधिक होता है। लेकिन ये कोई बड़ी बात नहीं है। ऐसा होता है। कभी कभी गेंदबाज असहज महसूस करता है और चोट से बचने के लिए बाहर चला जाता है। ये ठीक है। हम गेंदबाजों के बीच आपसी समझ अच्छी है।’’