On This Day: किसी वनडे मुकाबले में 300 रन बनाना मौजूदा समय में बड़ी बात नहीं माना जाता है. रोहित शर्मा, केएल राहुल या विराट कोहली की एक बड़ी पारी से आज के समय में 50 ओवरों के खेल में 300 रन यूं ही बन जाते हैं. 90 के दशक में 50 ओवरों के क्रिकेट में 250 रन के स्‍कोर को ही विशाल माना जाता था. आज ही के दिन साल 1996 में भारतीय टीम ने वनडे क्रिकेट में पहली बार 300 से अधिक रन बनाए थे.

जी हां, मोहम्‍मद अजहरुद्दीन की कप्‍तानी वाली भारतीय टीम ने 15 अप्रैल 1996 को यूएई के शाहजहां में खेले गए मुकाबले में पाकिस्‍तान के खिलाफ पहली बार 300 का जादूई आंकड़ा पार किया था. इस विशाल स्‍कोर के सूत्रधार सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) और नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) बने. सचिन ने मैच में 118 रन की विशाल पारी खेली जबकि सिद्धू के बल्‍ले से 101 रन आए. दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए बनी 231 रनों की साझेदारी बनी.

अंत में अजहरुद्दीन ने 10 गेंद पर 29 रन ठोक दिए, जिसकी मदद से भारत ने पांच विकेट के नुकसान पर 305 रन बनाए. भारत ने मैच में 28 रन से जीत दर्ज की थी. यह मैच इसलिए भी जाना जाता है क्‍योंकि इसमें सिद्धू और पाकिस्‍तान के वकार यूनुस व आमिर सोहेल के बीच मैदान पर तीखी नोकझोक हो गई थी.