Praveen Kumar retires from all formats of cricket; Says he has no regrets
Praveen kumar © Getty Images

भारतीय टीम के शानदार तेज गेंदबाजों में से एक प्रवीण कुमार ने आज अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट के सभी फॉर्मेट्स से संन्यास लेने का ऐलान कर दिया है। उत्तर प्रदेश के मेरठ से ताल्लुक रखने वाले प्रवीण अब गेंदबाजी कोच बनकर युवा प्रतिभाओं को निखारना चाहते हैं।

कुमार ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में कहा, “मुझे किसी बात का मलाल नहीं है। दिल से खेला, दिल से गेंदबाजी की। यूपी के कई अच्छे गेंदबाज आगे आने का इंतजार कर रहे हैं और मैं उनके करियर को प्रभावित नहीं करना चाहता। मैं खेलूंगा तो एक का जगह जाएगा। दूसरे खिलाड़ियों के भविष्य के बारे में सोचना भी जरूरी है। मेरा समय आ चुका है और मैने इसे स्वीकार कर लिया है। मैं खुश हूं और भगवान का शुक्रगुजार हूं जो उन्होंने मुझे ये मौका दिया।”

प्रवीण अब भी अपनी कंपनी ओएनजीसी के लिए क्रिकेट खेलते रहेंगे। आगे भविष्य के सवाल पर प्रवीण ने कहा, “मैं गेंदबाजी कोच बनना चाहता हूं। लोग जानते हैं कि मेरे पास ज्ञान है। मुझे लगता है कि ये ऐसा काम है जो मैं दिल से कर सकता हूं। मैं युवा खिलाड़ियों के साथ अपना अनुभव बांट सकता हूं।”

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में खेलने वाले प्रवीण कुमार ने कहा, “मैने क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है। ये फैसला जल्दबाजी में नहीं लिया गया है। मैने इस पर काफी सोच विचार किया है और मुझे लगता है कि ये खेल को अलविदा कहने का सही समय है। मैं अपने परिवार, बीसीसीआई, यूपीसीए, राजीव शुक्ला सर को मुझे अपने सपने पूरे करने का मौका देने के लिए शुक्रिया कहना चाहूंगा।”