पृथ्वी शॉ © Getty Images
पृथ्वी शॉ © Getty Images

मुंबई के बल्लेबाज पृथ्वी शॉ की उम्र वैसे तो महज 17 साल है लेकिन इतनी छोटी सी उम्र में वो अपने बल्ले के दम पर बेमिसाल प्रदर्शन कर रहे हैं। पृथ्वी शॉ ने दिलीप ट्रॉफी के फाइनल में इंडिया रेड के लिए खेलते हुए शानदार शतकीय पारी खेली। पृथ्वी शॉ ने इस पारी के साथ ही एक बड़ा रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया। पृथ्वी दिलीप ट्रॉफी फाइनल में सबसे कम उम्र में शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए। पृथ्वी शॉ ने सिर्फ 17 साल 320 दिन की उम्र में ये कारनामा किया। आपको बता दें पृथ्वी शॉ रणजी ट्रॉफी फाइनल में शतक लगाने वाले खिलाड़ी भी हैं। उन्होंने महज 17 साल 62 दिन की उम्र में मुंबई के लिए रणजी फाइनल में शतक जड़ा था।

पृथ्वी शॉ इंडिया ब्लू के खिलाफ लखनऊ में खेले जा रहे फाइनल मैच में ओपनिंग करने उतरे। शॉ ने ईशांत शर्मा की तीसरी ही गेंद पर चौका लगाकर अपना खाता खोला। शॉ ने ईशांत शर्मा की जबर्दस्त खबर ली और उनके तीसरे ओवर में दो और चौके जड़े। इंडिया रेड ने पहला विकेट 74 रन पर हेर्वाडकर के तौर पर खोया लेकिन शॉ क्रीज पर डटे रहे और 77 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। कर्ण शर्मा और शाहबाज नदीम की फिरकी के दम पर इंडिया ए ने न्यूजीलैंड ए को रौंदा

पृथ्वी शॉ ने अर्धशतक लगाने के बाद भी अपना संयम नहीं खोया और आक्रामक केल दिखाया। उन्होंने 31वें ओवर में भट्ट की गेंद पर जबर्दस्त छक्का जड़ा। 43वें ओवर में पृथ्वी शॉ ने इतिहास रचा। ईशांत शर्मा की गेंद पर शानदार चौका लगाकर उन्होंने 137 गेंद में अपना शतक पूरा किया। शतक लगाने के बाद पृथ्वी शॉ ने अपनी पारी को जबर्दस्त अंदाज में आगे बढ़ाया। खबर लिखे जाने तक शॉ 133 रन पर नाबाद थे और इंडिया रेड का स्कोर 2 विकेट पर 247 रन था। उनके साथ दिनेश कार्तिक 77 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे।