रणजी में शानदार प्रदर्शन ने भारतीय टीम में दस्तक दे रहें है आरपी सिंह। © AFP
रणजी में शानदार प्रदर्शन ने भारतीय टीम में दस्तक दे रहें है आरपी सिंह। © AFP

झारखंड बनाम गुजरात रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल मैच का आज तीसरा दिन था। दिन का खेल खत्म होने तक गुजरात टीम ने चार विकेट के नुकसान पर 100 रन बना लिए थे। इसका श्रेय जाता है झारखंड के सबसे सफल गेंदबाज शाहबाज नदीम को जिन्होंने एक बार फिर उम्दा गेंदबाजी का प्रदर्शन किया। शाहबाज ने 36 रन देकर तीन विकेट चटकाए और गुजरात के रनों की रफ्तार पर रोक लगाई। वहीं गुजरात की ओर से मनप्रीत जुनेजा और हार्दिक पटेल क्रीज पर बने हुए हैं। आज गुजरात को सबसे बड़ा झटका तब लगा जब शतकवीर प्रियांक पांचाल केवल एक रन बनाकर रनआउट हो गए। पांचाल ने पिछली पारी में 149 रन की धमाकेदार पारी खेली थी। ये भी पढ़ें: रणजी ट्रॉफी सेमीफाइनल मैचों के तीसरे दिन का खेल खत्म

आज के खेल की शुरूआत झारखंड की बल्लेबाजी से हुई। झारखंड टीम ने कल पांच विकेट पर 235 रन बना लिए थे जिस स्कोर को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने दिन की शुरूआत की। झारखंड टीम की ओर से ईशान जग्गी ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 129 रन बनाए। वहीं उनका साथ दिया ईशान किशन ने, जिन्होंने 61 रनों की पारी खेली और टीम का स्कोर 400 के पार पहुंचाया। वहीं गुजरात टीम की ओर से आरपी सिंह ने शानदार गेंदबाजी की और 408 के स्कोर पर झारखंड टीम को ऑल आउट किया। भारतीय टीम का हिस्सा रहे रुद्र प्रताप सिंह ने 90 रन देकर छह विकेट चटकाए साथ ही तीन मेडन ओवर भी डाले। दूसरी पारी में बल्लेबाजी करने उतरी गुजरात की टीम ने प्रियांक पांचाल के रूप में पहला और अहम विकेट जल्द खो दिया। जिसके बाद से उनकी पारी संभल ही नहीं पाई। ये भी पढ़ें: रणजी का रण: मैच के तीसरे दिन मुंबई ने तमिलनाडु पर ली 101 रनों की बढ़त

झारखंड टीम ने चार विकेट गिराकर गुजरात को बैकफुट पर रखा हुआ है। कल के दिन देखना होगा कि खेल किस ओर रुख करता है। गुजरात ने अपने प्रमुख बल्लेबाजों को खो दिया है लेकिन उम्मीद है कि निचले क्रम के बल्लेबाज इस अहम मैच में अपनी टीम के लिए योगदान देंगे।