Ranji Trophy 2018-19, Elite A, Round 5, Day 2
Yusuf Pathan © Getty Images (file image)

अनुभवी बल्लेबाज यूसुफ पठान की नाबाद 129 रन की पारी से बड़ौदा ने छत्तीसगढ़ के खिलाफ रणजी ट्रॉफी एलीट ग्रुप ए मैच के दूसरे दिन अपनी पहली पारी में 256 रन की बड़ी बढ़त हासिल की।

बड़ौदा ने छत्तीसगढ़ के 129 रन के जवाब में अपनी पहली पारी में 385 रन बनाए। छत्तीसगढ़ ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी दूसरी पारी में चार विकेट पर 174 रन बनाए हैं और उसे पारी की हार से बचने के लिए अब भी 82 रन की दरकार है। छत्तीसगढ़ की तरफ से अवनीश धालिवाल ने 79 रन बनाए।

पढ़ें: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इशांत शर्मा ने पूरा किया विकेटों का ‘अर्धशतक’

इससे पहले बड़ौदा ने सुबह सात विकेट पर 165 रन से आगे खेलना शुरू किया। पठान ने भार्गव भट (67) के साथ आठवें विकेट के लिये 98 और ऋषि अरोठे (63) के साथ नौवें विकेट के लिए 108 रन की दो महत्वपूर्ण साझेदारियां की। पठान ने अपनी पारी में 166 गेंदें खेली तथा 12 चौके और चार छक्के लगाए।

छत्तीसगढ़ के लिए ओंकार वर्मा ने 84 रन देकर चार विकेट लिए।

महाराष्ट्र ने की वापसी, मुंबई का दारोमदार लाड पर

महाराष्ट्र ने अपने आखिरी सात विकेट 42 रन के अंदर गंवाए लेकिन इसके बाद उसने दिन के आखिरी घंटे में मुंबई के चार विकेट 38 रन के अंदर निकालकर ग्रुप ए मैच में अच्छी वापसी की।

महाराष्ट्र ने सुबह तीन विकेट पर 298 रन से आगे खेलना शुरू किया लेकिन उसकी पूरी टीम 352 रन पर आउट हो गई। पहले दिन के अविजित बल्लेबाज जय पांडे ने 74 रन बनाए जबकि मुंबई के लिये आकाश पारकर ने 56 रन देकर चार विकेट लिए।

इसके जवाब में मुंबई का स्कोर एक समय एक विकेट पर 143 रन था लेकिन दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक वह पांच विकेट पर 196 रन बनाकर संघर्ष कर रहा था। उसका दारोमदार अब सिद्धेष लाड पर है जो 70 रन बनाकर खेल रहे हैं। उनके साथ दूसरे छोर शुभम रंजने (नाबाद नौ) खड़े हैं। मुंबई अभी महाराष्ट्र से 156 रन पीछे है।

लाड ने आदित्य तारे (63) के साथ दूसरे विकेट के लिए 109 रन जोड़े लेकिन यह साझेदारी टूटने के बाद मुंबई का मध्यक्रम लड़खड़ा गया। महाराष्ट्र के लिए अक्षय पालकर ने 37 रन देकर दो विकेट लिए हैं।

धर्मेन्द्र जड़ेजा के 7 विकेट से सौराष्ट्र को कर्नाटक पर बड़ी बढ़त

खब्बू स्पिनर धर्मेन्द्र सिंह जड़ेजा (103/7) की शानदार गेंदबाजी की बदौलत सौराष्ट्र ने एलीट ग्रुप ए के मैच में दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक कर्नाटक की पारी को 217 पर समेट कर पहली पारी में 99 रन की बढ़त हासिल की।

सौराष्ट्र ने दिन की शुरूआत नौ विकेट पर 288 रन से की। कमलेश मकवाना (46) और युवराज चूड़ासामा (नाबाद 20) के आखिरी विकेट के लिए 42 रन की साझेदारी कर टीम के स्कोर को 316 रन तक ले गए। इस साझेदारी को बाएं हाथ के स्पिनर जगदीश सुचित (111/6) ने मकवाना को आउट कर तोड़ा।

पढ़ें: VIDEO: इशांत शर्मा की खतरनाक गेंद ने उड़ा दिए एरोन फिंच के दो स्टंप्स

कर्नाटक की शुरुआत खराब खराब रहे 25 रन पर दो विकेट गिरने के बाद सलामी बल्लेबाज डी निश्चल (58) और करूण नायर (63) ने 96 रन की साझेदारी की लेकिन इस जोड़ी के टूटने के बाद पारी एक बार फिर लड़खड़ा गई और पूरी टीम 217 रन पर आउट हो गई।

धर्मेन्द्र जड़ेजा के सात विकेट के अलावा मकवाना को दो और चूड़ासामा को एक विकेट मिला।

नितिन भिले के नाबाद शतक से रेलवे बड़ी स्कोर की ओर

नितिन भिले के नाबाद 109 रन और अरिंदम घोष (69) के साथ चौथे विकेट के लिए 126 रन की अटूट साझेदारी के दम पर रेलवे ने गुजरात के खिलाफ ग्रुप ए मैच के दूसरे दिन तीन विकेट पर 266 रन बना लिए।

रेलवे की टीम अब भी गुजरात से 101 रन पीछे है और उसके सात विकेट बचे हुए हैं।

गुजरात ने दिन की शुरुआत आठ विकेट पर 340 रन से की और कल के शतकवीर पीयूष चावला आउट होने वाले अंतिम खिलाड़ी रहे। उनकी 130 रन की पारी के दम पर टीम ने 367 रन बनाए। उन्होंने 157 गेंद की पारी में 15 चौके और चार छक्के लगाए। पीयूष को करण ठाकुर (85 रन पर दो विकेट) आउट किया।

रेलवे की टीम एक समय 44 रन पर अपना दूसरा विकेट गवां कर संघर्ष कर रही थी लेकिन भिले ने प्रथम सिंह (42) के साथ 96 रन की साझेदारी कर टीम की स्थिति मजबूत की। इस साझेदारी के टूटने के बाद भिले और अरिंदम ने टीम को आगे कोई और नुकसान नहीं होने दिया।

भिले ने 191 गेंद की पारी में 14 चौके और एक छक्का लगाया है।