Ranji Trophy 2018-19, Group A, Round 9: Vidarbha, Karnataka eye on enter in Quarterfinal
Wasim-Jaffer © PTI (file image)

मौजूदा चैंपियन विदर्भ और घरेलू क्रिकेट की बड़ी टीमों में से एक कर्नाटक रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की करने की दौड़ में सबसे आगे बने हुए हैं।

सोमवार से अंतिम दौर के मैच खेले जाने हैं लेकिन एलीट ग्रुप ए और बी से क्वार्टर फाइनल में अब तक किसी भी टीम ने जगह पक्की नहीं की है। ग्रुप ए और बी से संयुक्त तालिका के आधार पर शीर्ष पांच टीमें क्वार्टर फाइनल में पहुंचेगी जबकि एलीट ग्रुप सी से दो और प्लेट ग्रुप से एक टीम क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की करेगी।

पढ़ें: ऑस्‍ट्रेलिया की वनडे टीम से बाहर किए जाने से निराश हैं नाथन कूल्‍टर नाइल

ग्रुप ए और बी की संयुक्त तालिका में विदर्भ 28 अंक के साथ पहले और कर्नाटक 27 अंक के साथ दूसरे स्थान पर है। गुजरात और सौराष्ट्र 26 अंक के साथ क्रमश: तीसरे और चौथे स्थान पर है जबकि ग्रुप बी से मध्यप्रदेश 24 अंक के साथ पांचवें स्थान पर है।

पढ़ें: ढाका डाइनामाइट्स की जीत में चमके हजरतुल्लाह जजई और रुबेल

बड़ौदा की टीम नौवें स्थान पर है और वह वडोदरा में सोमवार से खेले जाने वाले मैच में कर्नाटक के खिलाफ जीत दर्ज कर क्वार्टर फाइनल में पहुंचने की उम्मीदों को जीवंत रखना चाहेगी। अगर कर्नाटक इस मैच में जीत दर्ज करती है तो वह आसानी से क्वार्टर फाइनल के लिए क्वालीफाई कर लेगा।

यह बात विदर्भ पर भी लागू होगी है जो राजकोट में सौराष्ट्र से टकराएगा।

दोनों जीत के लिए पूरा जोर लगाएंगे ताकि अंतिम आठ में आसानी से जगह पक्की कर सकें। विदर्भ के हौसले हालांकि बुलंद होंगे क्योंकि पिछले मैच में उन्होंने 41 बार की चैंपियप मुंबई को मात दी थी। अनुभवी वसीम जाफर शानदार लय में है तो वही अक्षय वाखरे और आदित्य सरवते की स्पिनरों की जोड़ी भी फॉर्म में हैं।

एलीट ग्रुप ए के अन्य मैचों में मुंबई का सामना छत्तीसगढ़ और रेलवे का सामना महाराष्ट्र से होगा लेकिन ये सभी टीमें नाक आउट चरण में पहुंचने की दौड़ से बाहर हो चुकी हैं।

मुंबई अच्छा प्रदर्शन कर ग्रुप सी में रेलीगेट होने से बचने की कोशिश करेगा।। टीम इस सत्र में एक मैच में जीत नहीं दर्ज कर सकी है।

(इनपुट-भाषा)