रवि शास्त्री-विराट कोहली © AFP
रवि शास्त्री-विराट कोहली © AFP

आपने अकसर सुना होगा कि भारतीय क्रिकेटरों पर जमकर बारिश होती है वो करोड़ों रु. कमाते हैं। लेकिन क्या आपने कभी ये सुना है कि खिलाड़ियों से कोच की तनख्वाह है और वो टीम के कप्तान से भी ज्यादा सैलरी हासिल करता है। टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री की सैलरी पर नजर डालें तो आप कुछ ऐसा ही पाएंगे। ईएसपीएन क्रिकइंफो की एक रिपोर्ट की मानें तो रवि शास्त्री दुनिया के सबसे महंगे क्रिकेट कोच हैं। उनकी सैलरी 1.17 मिलियन डॉलर सालाना है। दुनिया के किसी भी क्रिकेट कोच इतनी रकम नहीं मिलती है।

रिपोर्ट के मुताबिक वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया के कोच डैरेन लेहमन की सालाना सैलरी 0.55 मिलियन डॉलर है। इंग्लैंड के कोच ट्रेवर बेलिस की तनख्वाह 0.52 मिलियन डॉलर है। मतलब इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया जैसे देश जिन्होंने क्रिकेट को शुरू किया उनके कोच की सैलरी भारतीय कोच के मुकाबले आधी से भी कम है। हैरानी की बात तो ये है कि कोच रवि शास्त्री की तनख्वाह टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली से भी ज्यादा है। विराट कोहली को सालाना 1 मिलियन डॉलर सैलरी मिलती है। विराट की सैलरी ऑस्ट्रेलिया के कप्तान स्टीवन स्मिथ और इंग्लिश कप्तान जो रूट से भी कम है। स्टीवन स्मिथ को सालाना 1.47 मिलियन और जो रूट को 1.27 मिलियन डॉलर मिलते हैं।

भारत को हराने के लिए 'भारतीय स्पिनर' हुआ न्यूजीलैंड की टीम में शामिल!
भारत को हराने के लिए 'भारतीय स्पिनर' हुआ न्यूजीलैंड की टीम में शामिल!

वैसे रिपोर्ट की मानें तो दक्षिण एशियाई टीम के कोचों की सैलरी उसके खिलाड़ियों से कही ज्यादा है। बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड चंद्रिका हथुरासिंघे को बांग्लादेश के टॉप खिलाड़ी से पांच गुना ज्यादा सैलरी देता है। कुछ ऐसा ही पाकिस्तान क्रिकेट में भी है जहां कोच मिकी आर्थर को पाकिस्तान के टॉप खिलाड़ी से तीन गुना ज्यादा वेतन मिलता है।