Rishabh Pant gets more chances because he is left-handed : says Sanju Samson’s coach Biju George
संजू सैमसन, रिषभ पंत (IANS)

साल 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ हरारे टी20 मैच के साथ भारतीय क्रिकेट टीम के लिए डेब्यू करने वाले विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन के कोच बीजू जॉर्ज का कहना है कि बाएं हाथ का बल्लेबाज होने की वजह से रिषभ पंत को सैमसन पर प्राथमिकता दी जाती है।

सैमसन ने 2019 में चार साल के बाद भारतीय टीम में वापसी की थी लेकिन बांग्लादेश के खिलाफ सीरीज के दौरान उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला।

इस बारे में उनके कोच ने कहा, “अगर आप मुझसे उस शख्स के तौर पर पूछें जो संजू के बेहद करीब है तो मैं कहूंगा कि उसे और मौके मिलने चाहिए। लेकिन अगर आप टीम इंडिया के दृष्टिकोण से देखें तो वो क्यों रिषभ पंत को इतने मौके दे रहे हैं? पहला इसलिए क्योंकि वो बाएं हाथ का बल्लेबाज है और दूसरा भारतीय टीम की तकनीकि की वजह से। उनके दिमाग में विश्व कप होगा, जहां वो ऐसी टीम के खिलाफ खेल सकते हैं जिसमें अच्छे बांए हाथ के स्पिनर या तेज गेंदबाज हो। और उस समय पंत काम आएगा।”

डेविड विली बोले-अभी मेरा सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन आना अभी बाकी है

उन्होंने कहा, “ये केवल मेरे विचार हैं। ये फैसला कोच, कप्तान और टीम मैनेजमेंट का है। मुख्य चयनकर्ता को चुनना होगा कि किस टीम के खिलाफ के कौन खेलेगा- पंत या संजू? ऐसा नहीं कि वो ये जानबूझकर किसी को मौका ना देने के लिए कर रहे हैं।”

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट पर ब्रेक लगने से पहले सैमसन आखिरी बार न्यूजीलैंड दौरे पर नजर आए थे। जहां दो टी20 मैच में उन्होंने मात्र 10 रन बनाए थे।

टीम इंडिया में आने के बाद बदला बल्लेबाजी का तरीका

सैमसन की बल्लेबाजी के बारे में बात करते हुए जॉर्ज ने कहा, “संजू ऐसा लड़का है, अगर आप उसकी पारी को देखेंगे, तो देख पाएंगे कि वो टाइमिंग पर निर्भर करता है। वो ऐसा खिलाड़ी नहीं है जो गेंद को तेजी से हिट करेगा, वो गेंद को टाइम करेगा। यही बात संजू को अलग करेगा।”

उन्होंने कहा, “अगर आप उसकी आईपीएल और घरेलू क्रिकेट की पारियां देखेंगे, आप देख पाएंगे कि वो गेंद को परफेक्ट टाइम करता है। पिछले सीजन जब उसने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ शतक जड़ा था तो उसने कवर्स की तरफ कई शॉट लगा थे। जब वो भारतीय टीम में आया तो किसी ने उससे कहा कि उसे गेंद को हिट करना होगा। उसने गेंद को हिट करना शुरू कर दिया, वहां से उसका शेप खोने लगा।”