Rohit Sharma: My motto is that what has happened in the past is in the past
रोहित शर्मा (IANS)

बांग्लादेश के खिलाफ मैच में शानदार शतकीय पारी खेल भारत को आईसीसी विश्व कप 2019 के सेमीफाइनल में पहुंचाने वाले सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा ने इस विश्व कप में अपने चार शतक पूरे कर लिए हैं। रोहित विश्व कप में सबसे ज्यादा शतक लगाने के मामले में श्रीलंका के कुमार संगाकारा के बराबर आ गए हैं। लेकिन रोहित ने कहा है कि वो इन सभी चीजों पर ध्यान नहीं देते और जिस मैच में खेल रहे हैं उसमें अच्छा करने की कोशिश करते हैं।

रोहित को एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड में खेले गए इस मैच में 104 रनों की पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। अवार्ड सेरेमनी के दौरान उन्होंने कहा, “मुझे लगा कि मैंने सिर्फ आज ही शतक लगाया है। मेरा मंत्र है कि अतीत में जो हो गया सो हो गया। जो बल्लेबाज फॉर्म में हैं उन्हें अंत तक बल्लेबाजी करनी होगी और टीम को बड़े स्कोर तक पहुंचाना होगा। मुझे अब अगले मैच पर ध्यान देने की जरूरत है।”

हमें थोड़ी किस्मत की जरूरत थी: मशरफे मुर्तजा

अपने इस शतक के बारे में रोहित ने कहा, “ये अच्छा अहसास है। ये बल्लेबाजी के लिए अच्छी पिच थी। मैंने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले मैच में जब शतक जमाया था तब मैंने समय लिया था। इंग्लैंड के खिलाफ मैच में भी पिच पर दोहरी गति थी और जैसा कि मैं चाहता था वैसे गेंद बल्ले पर नहीं आ रही थी। उन्होंने धीमी गेंदों का अच्छी तरह से इस्तेमाल किया। लेकिन पहले बल्लेबाजी करने से स्कोरबोर्ड का कोई दबाव नहीं होता है। आप सकारात्मक होकर खेलने आते हैं और मैं यही करता हूं।”

रोहित इस विश्व कप में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज भी बन गए हैं। रोहित के अब 528 रन हो गए हैं। बांग्लादेश के खिलाफ मैच में अपनी पारी को लेकर भारतीय उपकप्तान ने कहा, “मुझे शुरुआत से ही सही लग रहा था। पिच बल्लेबाजी के लिए अच्छी थी। शुरू में कुछ समय लेना चाहते थे और फिर ये आकलन किया कि हम वहां से कहां तक जा सकते हैं। ये विश्व कप में मेरे लिए ऐसा ही रहा है।”