© Getty Images
© Getty Images

पाकिस्तान के पूर्व कप्तान शाहिद अफरीदी और दक्षिण अफ्रीका के पूर्व कप्तान ग्रीम स्मिथ 8 और 9 फरवरी को स्विट्जरलैंड में खेले जाने वाले सेंट मौरिट्ज आइस क्रिकेट में हिस्सा लेंगे। इस टूर्नामेंट से संन्यास ले चुके कई बड़े क्रिकेटर पहले ही जुड़ चुके हैं। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने के बाद भी अफरीदी जहां लगातार प्रोफशनल लीग क्रिकेट खेल रहे है तो वहीं स्मिथ पिछले साल फरवरी में मास्टर्स चैम्पियन लीग में भाग लेने के बाद पहली बार क्रिकेट मैदान में दिखेंगे।

इस टूर्नामेंट से वीरेंद्र सहवाग, मोहम्मद कैफ, शोएब अख्तर, महेला जयवर्धने, लसिथ मलिंगा, माइकल हसी, जैक कैलिस, डेनियल विटोरी, नाथन मैक्कलम, ग्रांट इलियट, मॉन्टी पनेसर और ओवैस शाह जैसे क्रिकेटर पहले ही जुड़ चुके है। टूर्नामेंट के आयोजक वीजे स्पोर्ट्स ने दावा किया है कि इसके लिये उन्होंने ICC से मंजूरी ली है।

इस मैच को मैटिंग पिच पर खेला जायेगा जिसमें खिलाड़ी लाल गेंद और दूसरे क्रिकेट उपकरणों का इस्तेमाल करेंगे लेकिन स्पाइक वाले जूते की जगह स्पोर्ट्स जूते का इस्तेमाल करेंगे। माना जा रहा है कि ये मैच -20 डिग्री से भी कम तापमान में खेला जाएगा।

न्यूजीलैंड ने किया वेस्टइंडीज का सूपड़ा साफ, तीसरे वनडे में 66 रनों से हराया
न्यूजीलैंड ने किया वेस्टइंडीज का सूपड़ा साफ, तीसरे वनडे में 66 रनों से हराया

क्या है आइस क्रिकेट का इतिहास, नियम

ऐसा नहीं है कि बर्फ पर खेले जाने वाला आइस क्रिकेट का आयोजन पहली बार हो रहा है। इस टूर्नामेंट का आयोजन स्विट्जरलैंड में 1988 से हो रहा है। अब इसका आयोजन एस्टोनिया में 2004 से चल रहा है लेकिन साल 2018 में ये एक बार फिर सेंट मॉरिट्ज में खेला जाएगा। बर्फ में खेले जाने वाले इस क्रिकेट में बर्फ की पिच होती है और इसमें इनडोर प्रैक्टिस में इस्तेमाल होने वाली भारी प्लासिक गेंद का इस्तेमाल होता है। आइस क्रिकेट के मैच -10 से -25 तापमान पर ही खेले जाते हैं। आपको बता दें आइस क्रिकेट के मैच के दौरान बाउंड्री लाइन पर अधिकारी तैनात होते हैं जो आइस स्केट्स पहन कर रखते हैं। अगर आपने छक्का लगाया और गेंद स्केटर्स पर लगी तो टीम के खाते में 6 अतिरिक्त रन जुड़ जाते हैं।