© Getty Images
© Getty Images

पोचफस्टरूम में खेले जा रहे पहले टेस्ट में द.अफ्रीका ने बांग्लादेश को करारी मात दी। द.अफ्रीकी टीम ने पहला टेस्ट 333 रनों के बड़े अंतर से जीता और 2 टेस्ट की सीरीज में 1-0 की बढ़त हासिल की। द.अफ्रीका ने बांग्लादेश को 424 रनों का विशाल लक्ष्य दिया जिसके जवाब में मेहमान टीम दूसरी पारी में सिर्फ 90 रन पर ऑल आउट हो गई। दूसरी पारी में बांग्लादेश के सिर्फ 3 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा छू सके। द.अफ्रीका के लिए दूसरी पारी में केशव महाराज ने 4, कागिसो रबाडा ने 3 और मॉर्ने मॉर्कल ने 2 विकेट लिए।

पहले टेस्ट का पांचवां दिन

पहले टेस्ट के आखिरी दिन द.अफ्रीका को जीत के लिए 7 विकेट की दरकार थी और बांग्लादेश का स्कोर 3 विकेट पर 49 रन था। पांचवें दिन स्कोर में 6 रन ही जुड़े थे कि कप्तान मुश्फिकुर रहीम रबाडा को अपना विकेट दे बैठे। टीम के स्कोर में 7 रन ही जुड़े थे कि बांग्लादेश को महमदुल्लाह के तौर पर 5वां बड़ा झटका लगा। महमदुल्लाह को रबाडा ने 9 रन के निजी स्कोर पर बोल्ड किया। महमदुल्लाह के आउट होते ही बांग्लादेशी टीम 90 रनों तक सिमट गई। बांग्लादेश ने 5वें दिन अपने 7 विकेट सिर्फ 41 रन पर गंवा दिए। [ये भी पढ़ें:वनडे सीरीज में टीम इंडिया का धमाल, कर दिए ये 6 ‘कमाल’]

आपको बता दें बांग्लादेशी टीम 10 साल बाद टेस्ट में 100 से कम स्कोर पर ऑल आउट हुई और द.अफ्रीका के खिलाफ तो ऐसा पहली बार हुआ। पहली पारी में शानदार 199 रन की पारी खेलने वाले ओपनर डीन एल्गर मैन ऑफ द मैच चुने गए। कप्तान डुप्लेसी ने भी अपनी टीम की जीत पर खुशी जताई और विरोधी कप्तान मुश्फिकुर रहीम ने हार पर निराशा जताते हुए कहा कि मुझे याद नहीं कि आखिरी बार बांग्लादेश कब 100 रन से पहले सिमटा था। हम अगले टेस्ट में वापसी की कोशिश करेंगे।