The Ashes, ENGvsAUS: Justin Langer won’t be surprised if neck guard becomes mandatory
Steve Smith @twitter

ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लैंगर का कहना है कि उन्हें कोई हैरानी नहीं होगी अगर भविष्य में हेलमेट पर ‘नेक गार्ड’ पहनना अनिवार्य हो जाएगा। स्टार बल्लेबाज स्टीव स्मिथ इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में दूसरे एशेज टेस्ट में गर्दन पर एक बाउंसर लगने के बाद गिर गए थे।

पढ़ें: गॉल टेस्ट: कप्तान करुणारत्ने के शतक से श्रीलंका ने न्यूजीलैंड को 6 विकेट से हराया

स्मिथ शनिवार को चौथे दिन 80 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे, तभी तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर की बाउंसर उनकी गर्दन के पीछे लग गई। यह गेंद 92.4 मील प्रति घंटे (148.7 किलोमीटर प्रति घंटे) की रफ्तार से फेंकी गई थी।

वह थोड़ी देर के लिए जमीन पर गिर गए फिर बल्लेबाजी के लिए खुद को तैयार करने के लिए समय लिया।

स्मिथ इसके बाद तीन पारियों में तीसरे शतक से चूक गए लेकिन उन्होंने 92 रन की पारी खेली। उन्होंने गेंद से छेड़छाड़ के प्रतिबंध के बाद वापसी में एजबेस्टन में ऑस्ट्रेलिया की 251 रन की जीत में 144 और 142 का स्कोर बनाया था।

सिडनी में 2014 के घरेलू शेफील्ड शील्ड मैच में बाउंसर लगने से फिलिप ह्यूज की मौत हो गई थी। इसके बाद सुरक्षा के लिए शुरू हुए ‘नेक गार्ड’ (गर्दन की सुरक्षा के लिए) लगाना शुरू किया गया। हालांकि स्मिथ बिना ‘नेक गार्ड’ के हेलमेट पहने हुए थे।

पढ़ें: चोटिल रुडी सेकेंड की जगह हेनरिक क्लासेन दक्षिण अफ्रीकी टेस्ट टीम में

लैंगर ने कहा, ‘आप कभी भी अपने खिलाड़ियों को इस तरह हिट होते हुए नहीं देखना चाहते हो, इसमें कोई शक नहीं है। इस तरह का झटका, हालांकि याद रहेगा।’

यह पूछने पर कि खिलाड़ियों के लिए क्या ‘नेक गार्ड’ को अनिवार्य बना देना चाहिए तो उन्होंने कहा, ‘मैंने आज तक महसूस नहीं किया था कि इन्हें अनिवार्य बना देना चाहिए। इस समय खिलाड़ियों के पास विकल्प हैं और मुझे हैरानी नहीं होगी कि भविष्य में इन्हें अनिवार्य बना दिया जाएगा।’