This is what Test cricket should be, Says Faf Du Plessis after Durban Test
Faf-du-Plessis @Getty Image

श्रीलंका के हाथों पहले टेस्ट मैच में एक विकेट से मिली करीबी हार के बाद दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस ने कहा है कि वास्तव में टेस्ट क्रिकेट ऐसी होनी चाहिए, जैसा कि इस मैच में रोमांच देखने को मिला।

श्रीलंका ने कुसल परेरा (नाबाद 153) के करियर की सर्वश्रेष्ठ पारी और 11वें नंबर के बल्लेबाज विश्वा फर्नाडो (नाबाद 6) के बीच आखिरी विकेट के लिए हुई 78 रनों की अविजित मैच जिताऊ रिकार्ड साझेदारी के दम पर शनिवार को पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका को एक विकेट से हरा दिया।

पढ़ें: टेस्ट बल्लेबाजी रैकिंग में कोहली पहले और पुजारा तीसरे नंबर पर कायम

श्रीलंका को परेरा की इस अहम पारी के दम पर पिछले साल अक्टूबर के बाद से पहली जीत मिली है।

क्रिकइंफो के मुताबिक डु प्लेसिस ने कहा, ‘टेस्ट क्रिकेट ऐसी होनी चाहिए। लोगों को ऐसा दिखना चाहिए, चाहे वह तीन, चार या पांच दिन का ही क्यों न हो। यदि आप इस तरह के मैच देखते हैं तो यह अब भी नंबर वन प्रारूप है। ऐसे मैच अविश्वसनीय होते हैं जो कभी विपक्ष टीम के पास तो कभी आप के पास आ जाते हैं। ऐसे अद्भुत टेस्ट मैच का हिस्सा बनना शानदार होता है।’

दक्षिण अफ्रीका ने डरबन में पिछले 10 वर्षो में अब तक केवल एक टेस्ट मैच जीता है।

पढ़ें: बीबीएल फाइनल जीत ऑलराउंडर डेनियल क्रिस्टियन ने जीता 7वां T20 खिताब

परेरा ने जिस तरह की पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई है, ठीक उसी तरह बाएं हाथ के दिग्गज बल्लेबाज ब्रायन लारा ने दिलाई थी। लारा ने 1999 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 153 रनों की ही पारी खेलकर वेस्टइंडीज को अहम जीत दिलाई थी।

डू प्‍लेसिस ने कहा, ‘हमारा रिकॉर्ड यहां बहुत खराब है। मैं ऐसे हार से निराश हूं क्योंकि हमने दोनों पारियों में रन बनाए थे। पिछले दो वर्षों में हमने मुश्किल पिचों पर बल्लेबाजी की है और रन बनाए हैं, इसलिए मुझे लगा कि यहां हमारे पास एक मौका है।’

(इनपुट-एजेंसी)