© Getty Images
© Getty Images

क्रिकेट के मैदान पर 24 सालों तक अपने बल्ले की धमक मचाने वाले मास्टर-ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर सिर्फ एक अच्छे क्रिकेट खिलाड़ी नहीं थे। इसके अलावा उनके अंदर और भी कई टैलेंट हैं। उनमें से एक टैलेंट का नाम है गो-कार्टिंग में महारत। जी हां सचिन तेंदुलकर गो कार्टिंग रेस में महारात रखते हैं और उन्हें इस खेल में मात दे पाना मुश्किल होता है। मगर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली ने सचिन को गो कार्टिंग रेस में चुनौती दे दी और फिर इन दोनों के बीच मुंबई में रेस हुई।

ब्रेट ली ने सचिन को चैलेंज दिया और वो रेस में आगे भी रहे लेकिन आखिरी लम्हों ने सचिन ने अपनी कलाकारी दिखाई और ब्रेट ली से रेस जीत ली। सचिन तेंदुलकर ने रेस जीतने के बाद ट्विटर पर लिखा, ‘आपके खिलाफ खेलना हमेशा दबाव भरा होता है लेकिन आपको ये बात माननी हो कि उस समय मेरा रिएक्शन आप से बेहतर था क्योंकि उस वक्त समझ नहीं पा रहे थे कि खुद को कैसे फेस करें।’ आपको बता दें इस रेस के दौरान सचिन और ब्रेट ली की कार्ट का नंबर वही था जिस नंबर की वो मैदान पर जर्सी पहनते थे। मतलब सचिन ने 10 नंबर की कार्ट चुनी जबकि ब्रेट ली ने 58 नंबर की।

टी10 लीग में शाहिद अफरीदी की टीम पख्तूंस का धमाका, जीता लगातार दूसरा मैच
टी10 लीग में शाहिद अफरीदी की टीम पख्तूंस का धमाका, जीता लगातार दूसरा मैच

 

सचिन तेंदुलकर ने ब्रेट ली को दूसरी बार गो कार्टिंग में मात दी है। इससे पहले साल 2006 में भी इन दोनों के बीच ये रेस हुई थी। सचिन आधी रात के वक्त ब्रेट ली को अपने रेस्तरां ले गए थे जहां पर उन्होंने ब्रेट ली को करारी शिकस्त दी थी। ब्रेट ली इसी हार का बदला लेने एक बार फिर 11 साल बाद मुंबई आए लेकिन उन्हें इस बार फिर निराशा का सामना करना पड़ा।