जो रूट और विराट कोहली © Getty Images
जो रूट और विराट कोहली © Getty Images

पहले मैच में 350 रनों का विशाल स्कोर बनाने के बाद भी मैच हार गई इंग्लैंड टीम के धाकड़ बल्लेबाज जो रूट ने कहा है कि उनकी टीम के गेंदबाजों को विराट कोहली को आउट करने के लिए कुछ खास रणनीति बनाने की जरूरत है। पहले मैच में विराट कोहली ने केदार जाधव के साथ मिलकर टीम इंडिया को बेहतरीन जीत दिलाई थी और 350 रनों के विशाल स्कोर का आसानी से पीछा कर लिया था। मैच में कोहली और जाधव ने 200 रनों की साझेदारी की थी जिसकी बदौलत टीम इंडिया सीरीज में 1-0 की बढ़त बनाने में कामयाब हुई।

इयोन मॉर्गन ने कहा कि हमने कोहली के लिए रणनीति बनाई थी कि गेंदबाज कोहली को ऐसे ही गेंद डालें जैसे कि क्रीज पर कोई अन्य बल्लेबाज है, लेकिन केदार जाधव ने खेल बिगाड़ दिया। वहीं जो रूट ने कहा कि ये वाकई निराश करने वाला है हमें अच्छी शुरुआत मिली थी और लेकिन हम उसे अपने पक्ष में नहीं बदल सके। एक चीज जो मैंने परखी है वो यह है कि जब वह शुरू में क्रीज में आया था तो हम उसे परेशान कर सकते थे। साथ ही हम रन रेट को भी नहीं बढ़ा सके। अगर हम उसके खिलाफ कुछ रणनीति बनाते तो ये जरूर काम करती। अगर महेंद्र सिंह धोनी के आउट होने के बाद हम अगले पांच ओवरों में मौके तलाश कर विकेट ले सकते थे।  ये भी पढ़ें: शादियों के कारण कटक नहीं पहुंच सकीं टीमें, होटल के सारे कमरे बुक

जो रूट ने आगे कहा, कि कोहली ने लक्ष्य का पीछा करने के दौरान एक अच्छी बात की और वो यह थी कि वह लगातार अपने जोड़ीदार से बात कर रहे थे। कोहली के लगातार बात करने से केदार जाधव अपनी पारी को लंबा खींच पाए और जिसके कारण कोहली पर भी दबाव नहीं आया। जो रूट ने साथ ही कहा कि लक्ष्य का पीछा करने के दौरान कोहली वाकई लाजवाब है। रूट ने कहा कि जब बात लक्ष्य के पीछा करने की होती है तो कोहली सर्वोपरि है। कोहली को ऐसा करने में महारत हासिल है। उसके रिकॉर्ड भी इस बात के गवाह हैं। कोहली ने सफल लक्ष्य का पीछा करते हुए 15 शतक लगाए हैं। मुझे अच्छा लगेगा कि मैं उसके साथ बैठकर बात करूं, लेकिन मुझे अब तक इसका मौका नहीं मिला है। वाकई जब आप उसे देखते हैं तो आप उसके बारे में बहुत कुछ सोचते हैं। लक्ष्य का पीछा करने के दौरान कोहली बेहतरीन है। आपको बता दें कि पहले वनडे को भारत ने जीत लिया है अब दोनों देशों के बीच दूसरा वनडे मैच 19 जनवरी को खेला जाएगा।