वर्ल्ड इलेवन टीम © पीसीबी ट्विटर
वर्ल्ड इलेवन टीम © पीसीबी ट्विटर

पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट फिर से शुरू करने की मुहिम के तहत वर्ल्ड इलेवन की टीम मेजबानों के खिलाफ टी20 सीरीज खेलने के लिये सोमवार सुबह लाहौर पहुंची। लाहौर पहुंचने के बाद वर्ल्ड इलेवन के खिलाड़ियों और अधिकारियों को मॉल रोड पर फाइव स्टार होटल में ले जाया गया जिस पर सभी ओर से ट्रैफिक बंद था। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) और अंतरराष्ट्रीय क्रिकट परिषद (आईसीसी) ने पहले घोषणा की थी कि एयरपोर्ट पर मीडिया से कोई बातचीत नहीं होगी।

मार्च 2009 में श्रीलंकाई टीम पर हुए आतंकवादी हमले के बाद किसी बड़ी टीम का ये अधिकारिक दौरा है, जिससे इतनी कड़ी सुरक्षा जरूरी भी थी। इसमें अर्द्धसैनिक बल और पुलिस कमांडो शामिल थे। इस हमले के बाद से कोई भी बड़ी टेस्ट टीम सुरक्षा चिंताओं के कारण पाकिस्तान नहीं आयी है और आईसीसी ने भी किसी भी मैच रेफरी और अंपायर को मई 2015 में लाहौर में जिम्बाब्वे के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज के लिये भेजने से इनकार कर दिया था।

वर्ल्ड इलेवन के खिलाड़ी और इंग्लैंड के पूर्व कप्तान पॉल कॉलिंगवुड ने पाकिस्तान पहुंचते ही ट्विटर और इंस्टाग्राम पर अपने विचार जाहिर किए। उन्होंने पाकिस्तान में हुए स्वागत पर बहुत खुशी जताई। कॉलिंगवुड ने लिखा, ‘पाकिस्तान में शानदार स्वागत हुआ। पूल के अंदर मेरा नाम भी लिख दिया गया है।’

वर्ल्ड इलेवन के कप्तान फाफ डु प्लेसी ने भी पाकिस्तान के खिलाफ टी20 सीरीज को खासा अहम बताया। उन्होंने कहा कि उनका पाकिस्तान दौरा सिर्फ एक सीरीज में खेलना भर नहीं है बल्कि इससे कहीं ज्यादा है जिसमें खेल प्रशंसकों को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट देखने को मिलेगा और इससे यहां क्रिकेट की वापसी होगी। डु प्लेसी ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘ये सिर्फ क्रिकेट के बारे में नहीं है। ये छोटा दौरा इससे कहीं ज्यादा बढ़कर है। हम खुश हैं कि इतने लंबे समय बाद पाकिस्तानी क्रिकेटरों को घरेलू मैदान पर अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट देखने का मौका मिलेगा।’ (पीटीआई के इनपुट के साथ)