wtc final ind vs nz batting would be easy at southampton pitch on day six
विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा @ICCTwitter

भारत और न्यूजीलैंड के बीच साउथम्पटन में खेले जा रहे वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप (World Test Championshop Final) मैच अब अपने अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया है. खेल के दो दिन पूरी तरह बारिश में धुल जाने के बाद मैच के 5वें दिन की शुरुआत में भी बारिश बाधा बनी. हालांकि जब एक बार खेल शुरू हुआ तो फिर इसने कोई रुकावट पैदा नहीं की. टीम इंडिया ने आज न्यूजीलैंड की पहली पारी को 249 रन पर समेटने के बाद अपनी दूसरी पारी में 2 विकेट गंवाकर 64 रन जोड़ लिए हैं और अब वह कीवी टीम से 32 रन आगे है. बुधवार को मैच रिजर्व डे के दिन खेला जाएगा.

माना जा रहा है कि बुधवार को साउथम्पटन का मौसम साफ रहेगा और बारिश यहां व्यवधान नहीं डालेगी. ऐसे में माना जा रहा है कि मैच के छठे दिन यहां बैटिंग आसान हो सकती है. अंतिम दिन अगर मौसम इसी तरह साफ रहा था तो यहां बल्लेबाजी करना आसान होगा. लेकिन ऐसे में भारत को मजबूत लक्ष्य देना होगा क्योंकि इसी विकेट पर न्यूजीलैंड को जल्द समेटना उसके लिए आसान नहीं होगा.

सीनियर क्रिकेट लेखक और ब्रॉडकास्टर आशीष रे के मुताबिक, यहां की सतह नाटकीय ढंग से टर्न में बदल रही है, जबकि तेज गेंदबाजों के लिए इसमें बहुत कुछ नहीं होगा. भारत निस्संदेह अपनी बल्लेबाजी में कुछ करने की मारक क्षमता रखता है. अगर भारतीय टीम की दूसरी पारी जल्द ढेर हो जाती है तो इससे न्यूजीलैंड के लिए दरवाजे खुलेंगे. अगर कीवी टीम को 200 से कम का स्कोर मिलता है तो न्यूजीलैंड की दावेदारी मजबूत होगी. भारत अगर अपने महत्वपूर्ण विकेट जल्द गंवाता है तो उसे परेशानी का सामना करना पड़ेगा.

न्यूजीलैंड के सुबह के सत्र में अच्छी रेट में रन नहीं बना पाने की अक्षमता जगजाहिर है जो उसके लिए उम्मीद के मुताबित नतीजे पाने में कठिनाई पैदा कर सकती है. भारतीय गेंदबाजी आक्रमण सटीक है लेकिन अजेय नहीं है. बाउंड्री की सोचना कठिन था लेकिन सिंगल दो रन बनाने आसान है, जिसका लाभ नहीं उठाया गया तो मुश्किल होगी.