अजिंक्य रहाणे © AFP
अजिंक्य रहाणे © AFP

रविवार को पुणे में किंग्स इलेवन पंजाब और राइजिंग पुणे सुपरजायंट के बीच ग्रुप स्टेज का सबसे महत्वपूर्ण मैच खेला गया। इस मैच में जो भी टीम जीतनी थी उसे सीधे प्लेऑफ का टिकट मिल जाना था। उम्मीदों के विपरीत पहले बल्लेबाजी करते हुए किंग्स इलेवन पंजाब महज 73 रनों पर ऑलआउट हो गई। इस तरह मैच में एमएस धोनी बैटिंग करने को आएंगे इसको लेकर उम्मीदें खत्म हो गईं क्योंकि इतने छोटे से स्कोर को तो पुणे सुपरजायंट का शीर्ष क्रम ही चेज कर लेता लेकिन इस दौरान धोनी की बैटिंग का मजा अजिंक्य रहाणे दे गए। उन्होंने बेहतरीन बल्लेबाजी का मुजाहिरा पेश किया और अंत में ग्लेन मैक्सवेल की गेंद पर डीप मिड विकेट का छक्का जड़कर उन्होंने टीम को जीत दिलवाई। इस तरह रहाणे ने धोनी के बल्लेबाजी में न आने की कमी दर्शकों को महसूस नहीं होने दी।

करो य मरो के मुकाबले में, आरपीएस के कप्तान स्टीवन स्मिथ ने टॉस जीता और महाराष्ट्र क्रिकेट असोसिएशन, पुणे की पिच पर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। उनका फैसला मास्टरस्ट्रोक उस वक्त साबित हुआ जब पुणे ने विपक्षी टीम को महज 73 रनों पर 16वे ओवर में ही समेट दिया। इसके बाद घरेलू टीम ने लक्ष्य को 12वें ओवर में चेज कर लिया और 9 विकेट से बड़ी जीत दर्ज की। इस जीत के साथ पुणे प्वाइंट टेबल में दूसरे नंबर पर पहुंच गई है। वह मुंबई इंडियंस के बाद दूसरे नंबर पर है और प्लेऑफ में अपनी जगह सुनिश्चित कर ली है।[ये भी पढ़ें: पंजाब को 9 विकेट से हराकर पुणे ने प्लेऑफ में बनाई जगह]

ओपनिंग में उतरे रहाणे अंत तक 34 गेंदों में 34 रन बनाकर नाबाद रहे। इस दौरान उन्होंने पहले विकेट के लिए राहुल त्रिपाठी के साथ 41 रनों की साझेदारी निभाई, जिन्होंने 20 गेंदों में 28 रन बनाए। कप्तान स्टीवन स्मिथ ने 18 गेंदों में 15 रन बनाए।